कोरोना वायरस जैसे जानलेवा वायरस से फेल रहे संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे भारत में लॉकडाउन की घोषणा की थी और बढ़ते मामलों को देखते हुए हालातों पर काबू पाने के लिए लॉकडाउन को लगातार आगे भी बढ़ाया जा रहा है। लॉक डाउन के कारण सभी अपने घरों में है और कोई भी अपने ऑफिस या काम पर नहीं जा पा रहा है। अब ऐसे में इन घर बैठे लोगों के मन में अपनी नौकरी और वेतन को लेकर चिंता और डर सता रहा है। इन सब हालातों के बीच Spicejet के बाद अब IndiGo एयरलाइंस कंपनी ने अपने कर्मचारियों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है।

Advertisement

श्रम कानूनों को ‘कमजोर करने’ के खिलाफ लिखा राष्ट्रपति को पत्र

IndiGo एयरलाइंस का फैसला :

दरअसल, लॉकडाउन के दौरान सभी हवाई यात्राएं भी ठप्प पड़ी है। जिससे IndiGo समेत कई एयरलाइंस कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। इसी के चलते IndiGo कंपनी ने अपने कर्मचारियों की मई महीने के वेतन में कटौती करेगी।

सड़क पर थूका तो वसूला 2500 रु. जुर्माना, सफाई भी करवाई

कंपनी ने बताया :

IndiGo कंपनी ने बताया कि, आर्थिक नुकसान के चलते कंपनी को यह फैसला लेना पड़ा है। IndiGo एयरलाइंस ने अपने कर्मचारियों को ईमेल के जिरए यह जानकारी दी। साथ ही कंपनी ने यह भी बताया है कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई अपील के चलते ही हमने अप्रैल के महीने के वेतन में कटौती नहीं की थी, साथ ही 19 मार्च को वरिष्ठ अधिकारियों के वेतन में कटौती की घोषणा को भी 23 अप्रैल वापस ले लिया था, लेकिन अब ज्यादा नुक्सान को देख कर हमे यह करना ही होगा। कंपनी पर आर्थिक बोझ ग़ाफ़ि बढ़ता नजर आ रहा है।

10वीं-12वीं बोर्ड की बाकी परीक्षाएं 1 से 15 जुलाई के बीच होंगी, लॉकडाउन के कारण अब 83 नहीं, सिर्फ 29 विषयों की परीक्षा होगी

CEO खुद काटेंगे अपना वेतन :

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) रणजय दत्ता ने बताया है कि, वह कंपनी के कर्मचारियों के साथ ही खुद के वेतन में भी कटौती करेंगे। हालांकि, यह जानकारी रणजय दत्ता ने 19 मार्च को दी थी। जानकारी के अनुसार, वह अपने वेतन में 25% तक की कटोरी करेंगे जो सबसे अधिक कटौती होगी। बाकि अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के वेतन में भी श्रेणीबद्ध तरीके से कटौती की जाएगी। अर्थात वरिष्ठ उपाध्यक्ष से लेकरकर्मचारियों तक घाटे क्रम में कटौती की जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए राज्य सरकारें शराब की होम डिलीवरी पर विचार करें

इस प्रकार होगा क्रम :

  • वरिष्ठ उपाध्यक्ष और उससे ऊपर के स्तर पर कर्मचारियों के वेतन में – 20% की कटौती
  • उपाध्यक्ष और विमान चालक दल कर्मचारियों के वेतन में – 15% की कटौती
  • सहायक उपाध्यक्ष, ग्रुप -D वर्ग और इस स्तर के चालक दल कर्मचारियों के वेतन में – 10% की कटौती
  • ग्रुप -C वर्ग के वेतन में – 5% की कटौती

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply