भोपाल की सड़कों पर

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की सड़कों पर चार चांद लगाते हुए गड्ढों से जब आम जनता को ऐतबार हुआ तो प्रदेश के मुखिया शिवराज ने नाराजगी जाहिर की जिसके बाद नगर निगम, PWD और CPA (राजधानी परियोजना प्रशासन) ने जिन सड़कों पर देशी जुगाड़ किया उसकी भी पोल थोड़ी देर के बारिश में ही खुल गई

Advertisement

भोपाल में कट्टा अड़ाकर दिनदहाड़े लूट,ओला टैक्सी चालक की टैक्सी और मोबाइल लूटकर भागे

आपको बता दें जिन एजेंसियों ने सड़कों पर उतरे गड्ढों को भरने का काम शुरू किया उनके सामने भोपाल में हो रही 2 दिन की बारिश ने मुसीबत खड़ी कर दी है परेशानी का आलम यह रहा कि अभी इन एजेंसियों ने पुराने गड्ढों को भरने का काम खत्म भी नहीं किया इनके द्वारा भरे गए गड्ढे फिर से उभर कर सामने आने लगे जिसके बाद इन एजेंसियों ने ताबड़तोड़ तरीके से देसी जुगाड़ कर कर ही अपना काम शुरू कर दिया लेकिन बारिश उसे भी बहा ले गई

मिली जानकारी के मुताबिक PWD ने सुबह 11.30 बजे से सुभाष नगर चौराहे से हबीबगंज थाने के बीच जर्जर सड़क के पेंचवर्क का काम शुरू किया। करीब 200 मीटर हिस्से के गड्‌ढों में डामर-चूरी डाल दी और ऊपर से पेड़ों की पत्तियां बिछा दी। न तो डामर को रोलर से दबाया गया और न ही आसपास बेरिकेडिंग की गई। ऐसे में गाड़ियां गुजरती गई और पहियों से डामर-चूरी गड्‌ढों से बाहर निकलने लगे। रही कसर बारिश ने कर दी। करीब 15 मिनट हुई तेज बारिश डामर-चूरी बहा ले गई

महिलाओं पर सरेआम बरसाए लठ,जान बचाकर भागती नजर आईं महिलाएं

बर्बाद हो गई मेहनत, लौट गए कर्मचारी

पेंचवर्क कर रहे कर्मचारियों ने बताया कि गड्‌ढों को भरने के लिए इमरसन डामर का इस्तेमाल कर रहे हैं, जो बारिश में भी बेहतर होता है, लेकिन तुरंत बारिश होने से डामर और चूरी दोनों ही बाहर निकल आए। बारिश में मरम्मत का काम नहीं हो सकता। इसलिए अब बुधवार को आएंगे।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply