कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सावधानियां और टीकाकरण ही उपाय है। भारत सरकार ने पहले 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगवाया और अब 18 साल से 44 साल आयु वालों को टीका लगाया जा रहा है। हालांकि टीकों की कमी इस काम में बड़ी बाधा बन रही है। इस बीच, केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है, जिसका फायदा भारत के लोगों को मिलेगा।

Advertisement

मध्यप्रदेश में इन हॉस्पिटलों की निरस्त हुई मान्यता, FIR दर्ज

केंद्र सरकार ने पुणे के सीरम इंस्टिट्यूट से कहा है कि ब्रिटेन को भेजी जाने वाली कोविशिल्ड के 50 लाख डोज का इस्तेमाल भारत में ही करे। यानी अब इन टीकों को ब्रिटेन निर्यात नहीं किया जाएगा और भारत में 18+ के टीकाकरण में इस्तेमाल किया जाएगा।

इंदौर में मोबाइल चार्जर के लिए किया अपने ही दोस्त का मर्डर

कोरोना रोधी वैक्सीन की अब तक 16.71 करोड़ डोज लगाई गईं

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि देश में अब तक कोरोना रोधी वैक्सीन की 16.71 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। इसमें टीकाकरण अभियान के 112वें दिन शुक्रवार को 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में दी गईं कुल 21.27 लाख डोज भी शामिल हैं। इनमें से 18-44 साल आयुवर्ग के 2.96 लाख लोगों को पहली डोज लगाई गई। मंत्रालय ने बताया कि अब तक 16 करोड़ 71 लाख 64 हजार से ज्यादा डोज लाभार्थियों को दी जा चुकी हैं। लाभार्थियों में 45 से 60 साल आयुवर्ग के 5.46 करोड़ को पहली और 58.29 लाख को दूसरी डोज दी गई हैं। जबकि, 60 साल से ज्यादा उम्र के 5.34 करोड़ लोगों को पहली और 1.42 करोड़ लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी हैं।

मध्य प्रदेश के रीवा में पुलिस का अमानवीय चेहरा, सब्जी बेचने जा रहे किसान की टोकरी में मारी लात, मोके पर पुलिस अधीक्षक भी थे मौजूद

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply