रमजान में भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में भारतीय सेना ने कड़ी जवाबी कार्रवाई करते हुए पाक सेना की एक चौकी तबाह कर दिया। इसके अलावा पांच पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने या घायल होने की सूचना है। वहीं, इससे पहले पाकिस्तान ने लगातार दूसरे दिन शुक्रवार को भी कश्मीर के उड़ी (बारामुला) सेक्टर में भारतीय सैन्य और नागरिक ठिकानों पर भारी गोलाबारी की। इसमें दो जवान शहीद हो गए जबकि दो अन्य सैन्य जवान और तीन नागरिकों को गंभीर चोटें आई हैं।

Advertisement

अधिकारियों ने बताया कि दोपहर करीब साढ़े तीन बजे गुलाम कश्मीर में हाजीपीर सेक्टर में पाक सैनिकों ने अपनी चौकियों से चुरुंडा, हथलंगा, सिलीकोट, बटगरान, शहूरा, नांबला और गरकोट को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की। चरुंडा गांव में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इसी गांव में बशीर अहमद की 12 वर्षीय बेटी शहनाजा बानो व चार वर्षीय पुत्र तौसीफ अहमद और ताहिरा बानो पत्नी लियाकत अली जख्मी हो गई। उड़ी के पास मलिक मोहल्ले में मुबशिर मलिक और आफताब अहमद के मकान को क्षति पहुंची है। वहीं, भारतीय सेना के चार जवान भी जख्मी हुए थे, जिसमें से दो शहीद हो गए। जबकि दो का अस्पताल में इलाज चल रहा है। शहीद की पहचान हवलदार गोकर्ण और नायक शंकर के रूप में हुई है। घायलों के नाम हवालदार नारायण सिंह और नायक प्रदीप कुमार हैं। सभी कुमाऊं रेजिमेंट से संबंधित हैं।

एक पाकिस्तानी चौकी की तबाह

भारतीय जवानों ने भी जवाब में पाकिस्तान की हाजीपीर के निचले हिस्से में स्थित एक चौकी को तबाह कर दिया। इसमें उसके पांच सैनिकों के मारे जाने की सूचना है। सूत्रों ने बताया कि क्षतिग्रस्त चौकी से कुछ सैनिकों को अपने घायल अथवा मृत साथियों को हटाते हुए देखा गया है। नियंत्रण रेखा से सटे क्षेत्रों में लोग सामुदायिक सुरक्षा बंकरों में चले गए हैं। कुछ को प्रशासन ने निकटवर्ती सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है।

https://youtu.be/gMONbnZ4ops

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply