भोपाल: रिश्वत लेते पकड़ाया सरकारी प्रेस का रीडर

भोपाल: रिश्वत लेते पकड़ाया सरकारी प्रेस का रीडर

Share this News

लोकायुक्त भोपाल पुलिस ने सरकारी प्रेस के सीनियर प्रूफ रीडर को 3 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। रीडर ने नाम संशोधन का गजट नोटिफिकेशन के लिए पांच हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी। बुधवार को उसे रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए दबोचा लिया।

सरकारी प्रेस का रीडर
सरकारी प्रेस का रीडर

लोकायुक्त एसपी मनु व्यास ने बताया कि रेखा जैन अधिवक्ता हैं। उनके क्लाइंट अमृत धोटे उर्फ मारुति का नाम संशोधन के लिए गजट नोटिफिकेशन कराना था। इसके लिए सरकारी प्रेस में पदस्थ सीनियर प्रूफ रीडर संतोष रैकवार ने उनसे पांच हजार रुपए के रिश्वत की मांग की।

सोनू सूद के घर आयकर विभाग का छापा,6 जगहों पर किया सर्वे

रेखा ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से कर दी। लोकायुक्त ने शिकायत की तस्दीक की, जिसमें शिकायत सही पाई गई। बुधवार को रेखा आरोपी को रिश्वत की रकम देने सरकारी प्रेस पर पहुंची। आरोपी ने तीन हजार रुपए जैसे ही रेखा से लिए उसी दौरान लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया।

गलती बताकर करता रहा टालमटोल

महिलाओं की सुरक्षा के साथ नहीं होगा कोई समझोता,दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों का होना चाहिए रिकॉर्ड: ठाकरे

डीएसपी सलिल शर्मा ने बताया कि रेखा के क्लाइंट का अंकसूची में अमृत नाम लिखा है। जबकि कुछ दस्तावेजों में आरुति है। ऐसे में वह एक नाम कराने के लिए नोटिफिकेशन जारी कराना चाहता था।

अधिवक्ता रेखा उसके नाम का नोटिफिकेशन के लिए सरकारी प्रेस को आवेदन दिया था। जहां, प्रूफ रीडर संतोष ने तमाम गल्तियां बताकर टालमटोल करता रहा। इसी बीच उसने पांच हजार रुपए रिश्वत की मांग रख दी।

हमसे ट्विटर पर जुड़ें

 

CBSE 10th क्लास के सैंपल पेपर जारी,ऐसे करें डाउनलोड Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा।