सागर में पंडित धीरेंद्र शास्त्री की कथा में 50 से ज्यादा परिवार हिंदू धर्म में लौटे,बोले-हम लालच में भटक गए थे

सागर में पंडित धीरेंद्र शास्त्री की कथा में 50 से ज्यादा परिवार हिंदू धर्म में लौटे,बोले-हम लालच में भटक गए थे

Share this News

हिंदू धर्म में लौटे 50 से ज्यादा परिवार पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की कथा में लगभग 95 लोगों ने अपनाया सनातन.

मध्यप्रदेश के सागर में कथा के दौरान पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के सामने 50 से ज्यादा परिवारों के 95 लोगों ने एक बार फिर सनातन धर्म अपना लिया है,ये परिवार बदौना और जिले के अलग-अलग गांवों के रहने वाले हैं।

 पंडित धीरेंद्र शास्त्री की कथा में 50 से ज्यादा परिवार हिंदू धर्म में लौटे
पंडित धीरेंद्र शास्त्री की कथा में 50 से ज्यादा परिवार हिंदू धर्म में लौटे

दरअसल, सागर के बहेरिया इलाके में बांके बिहारी नगर में पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की 24 अप्रैल से कथा चल रही है। रविवार को कथा का आखिरी दिन था। रविवार को लाखों भक्तों के बीच उन्होंने 95 लोगों की घर वापसी कराई है।

भोपाल एम्स के खाने में निकली इल्ली,मरीजों के परिजन सहित अस्पताल का स्टाफ रहता है खाने पर निर्भर..

इस दौरान पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री  ने कहा कि हम जातिवाद में नहीं पड़ते हैं। आज से आप हमारा परिवार हैं। सभी सनातनियों से कहा कि घर लौटे परिवारों को सभी अपना परिवार मानें। आज यदि हम नहीं जागे, तो ये लोग इसी प्रकार खंड-खंड करते रहेंगे, लेकिन मेरा प्रण है कि मैं हिंदुओं को खंड-खंड नहीं होने दूंगा। इसी तरह घर वापसी का अभियान लगातार चलता रहेगा।

छतरपुर में 200 से अधिक लोगों की घर वापसी

बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री लगातार लोगों की घर वापसी करा रहे हैं। इससे पहले छतरपुर में 200 से अधिक लोगों की घर वापसी कराई थी। इसके अलावा ओडिशा समेत अन्य स्थानों पर लोगों की घर वापसी करा चुके हैं।

बैतूल में आरोपी को पकड़ने गई पुलिस पर लाठी-डंडे और कुल्हाड़ी से हमला,SI का सर फूटा तीन पुलिसकर्मी

राजघाट ले जाकर डुबकी लगवाई, बकरी और मच्छरदानी दी

घर वापसी कर रहे दयाल ने कहा कि हमें धर्म परिवर्तन करने के लिए लालच दिया गया था। वे आए और सब लोगों को वाहन में बैठाकर राजघाट ले गए, जहां डुबकी लगवाई। उन्होंने ईसाई धर्म अपनाने पर मच्छरदानी, बकरी और कंबल दिए। मजदूरी करते हैं, इसलिए लालच में आ गए थे। उन्होंने कहा था कि हमारा धर्म मानोगे, तो इसी तरह सुविधा मिलती रहेगी। वहीं, महिला ने कहा कि उन्होंने राजघाट में डुबकी लगवाने के बाद कहा कि मंगलसूत्र पहनना बंद कर दो। बिंदी भी मत लगाओ। लालच में आकर हम भटक गए थे, लेकिन अब नहीं भटकेंगे।

Download our App Now

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..