पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा 33 लोगों की मौत, 80 से अधिक घायल
पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा 33 लोगों की मौत, 80 से अधिक घायल
Share this News

पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा:कराची से रावलपिंडी जाने वाली हजारा एक्सप्रेस के 10 डिब्बे पटरी से उतर गए, जिसमें कम से कम 33 लोगों की मौत हो गई और 80 से अधिक लोग घायल हो गए.

 

पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा: पाकिस्तान में कराची से रावलपिंडी जाने वाली हजारा एक्सप्रेस के 10 डिब्बे पटरी से उतर गए, जिसमें कम से कम 33 लोगों की मौत हो गई और 80 से अधिक लोग घायल हो गए. पाकिस्तानी समाचार चैनल पीटीवी ने यह जानकारी दी है. वहीं जियो न्यूज के अनुसार, कराची से करीब 275 किलोमीटर दूर स्थित नवाबशाह इलाके में सरहरी रेलवे स्टेशन के पास हुए इस भीषण रेल हादसे में और भी लोगों के घायल होने की आशंका है. घायल यात्रियों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया है.

क्राइम ब्रांच के सामने गोली चलाने वाले अश्विन शर्मा को एक दिन में मिली जमानत

प्रशासन बचाव अभियान चला रहा है और आसपास के अस्पतालों में आपातकाल घोषित कर दिया गया है. ट्रेन के पटरी से उतरने का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है. नवाबशाह के डीसी शहरयार गुल मेमन ने कहा कि बचाव अभियान अभी चल रहा है और आसपास के अस्पतालों में इमर्जेंसी घोषित कर दी गई है. उन्होंने आगे कहा कि राहत अभियान के लिए एम्बुलेंस और बचाव कर्मचारियों को मौके पर भेजा गया है.

पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा को लेकर जियो न्यूज ने शक्कूर रेल मंडल के अधीक्षक महमूदुर्रहमान के हवाले से बताया, ‘दुर्घटना के कारण, अप ट्रैक पर यातायात निलंबित कर दिया गया है.’ वहीं पाकिस्तानी समाचार चैनल डॉन के मुताबिक, पाकिस्तान रेलवे के सुक्कुर मंडल वाणिज्यिक अधिकारी (डीसीओ) मोहसिन सियाल ने कहा, ‘मैं दुर्घटनास्थल पर जा रहा हूं.’ उन्होंने कहा, ‘कुछ लोग बता रहे हैं कि पांच डिब्बे पटरी से उतर गए हैं, कुछ कह रहे हैं कि आठ डिब्बे पटरी से उतर गए हैं और कुछ कह रहे हैं कि 10 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं.’

BJP विधायक के बेटे पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित,आदिवासी शख्स को मारी थी गोली

पाकिस्तान में भीषण रेल हादसा हुआ जिसके चश्मदीदों और पुलिस ने बताया कि हजारा एक्सप्रेस सिंध प्रांत में शहजादपुर और नवाबशाह के बीच स्थित सरहरी रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई. वहीं स्थानीय टीवी फुटेज और सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में सरहरी रेलवे स्टेशन के पास दुर्घटनास्थल पर ट्रेन के डिब्बे बुरी तरह क्षतिग्रस्त नजर आ रहे हैं. फुटेज में बचावकर्मी और पुलिसकर्मी पटरी से उतरे डिब्बों से लोगों को बाहर निकालते हुए दिखे. आम लोग भी बचाव कार्य में शामिल दिखे.

रेल मंत्री ख्वाजा साद रफीक ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार, ट्रेन सामान्य गति से चल रही थी. उन्होंने कहा कि इस बड़े रेल हादसे के पीछे ‘तोड़फोड़’ या ‘यांत्रिक खराबी’ से इनकार नहीं किया जा सकता.

2 सीनियर IPS प्रमोट, 18 IAS के ट्रांसफर,इंदौर-भोपाल के कमिश्नर की अदला-बदली

 

Download our App Now