कोरोना महामारी ने आम आदमी के जीवन को सर्वाधिक प्रभावित किया है, ऐसे समय में लोग बड़ी मुश्किल से अपना गुजारा कर रहे है। ऐसे हालात में अगर कोई आम आदमी मेहनत की कमाई (रुपये) से कुछ जरूरी दवाई या सामग्री आदि लेने जा रहा हो और रास्ते में कहीं उसके रुपये खो जाए, तो उस पर तो मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ता है।

Advertisement

पूर्व मंत्री को जारी हुआ कारण बताओ नोटिस, भाजपा ने पांच मंडल अध्यक्षों को किया निलंबित

ऐसा ही वाक्या आज पुलिस कंट्रोल रूम जहांगीराबाद में पदस्थ महिला हेड कांस्टेबल इशरत परवीन खान को देखने को मिला। परवीन खान आज प्रातः करीब 9 बजे आजाद मार्केट की तरफ जा रही थी, तभी उनकी नजर शंकर ऑइल के सामने रोड किनारे नोटों की गड्डी पर पड़ी। उन्होंने आसपास देखा तो कोई भी व्यक्ति वहाँ आते जाते नही दिखा। तभी परवीन ने नोटों की गड्डी उठाई और मानवता की मिसाल पेश करते हेतु व जिम्मेदार नागरिक होने का परिचय देते हुए थाना मंगलवारा पहुँची।

मध्यप्रदेश में इन हॉस्पिटलों की निरस्त हुई मान्यता, FIR दर्ज

थाना पहुँचकर नोटों की गिनती की तो उसमें 100-100 रुपये की 70 नोट कुल 7000/- रुपये निकले, जिन्हें हेड महोदय के सुपुर्द किये एवं रोजनामचे में रिपोर्ट दर्ज करवाकर वायरलेस पर पूरे शहर में सूचना प्रसारित कराई गई।

कोविशिल्ड के 50 लाख टीके ब्रिटेन नहीं भेजेगा भारत

महिला पुलिसकर्मी द्वारा किये गए उक्त सराहनीय कार्य की वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा काफ़ी प्रशंसा की गईं।

इंदौर में मोबाइल चार्जर के लिए किया अपने ही दोस्त का मर्डर

अगर उक्त राशि किसी व्यक्ति की गुमी हो तो कृपया थाना मंगलवारा 0755-2677389, 7049104116 पर सम्पर्क करें।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply