शहर में मादक पदार्थ की तस्करी रूकने का नाम नहीं ले रही है। होली पर्व के पहले गांजे की तस्करी लगातार सामने आ रही है। जिसको लेकर अब तस्करों ने तरह-तरह के नायाब तरीके से ढूंढ़ निकाले हैं। ऐसा ही एक मामला बीती देरशाम जबलपुर के माढ़ोताल क्षेत्र में सामने आया। जहां दीनदयाल बस स्टैण्ड पर एक महिला सहित तीन तस्करों ने चार थैलों में साड़ियों के पैकेट रखे हुए थे और साड़ियों के अंदर गांजे के पैकेट छिपाकर रखे गये थे। पुलिस ने तीनों आरोपियों को दबोचकर उनके पास से 28 किलों गांजा बरामद किया है। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए गांजे के संबंध में पूछताछ शुरु कर दी है।

Advertisement

कोर्ट परिसर के बाहर वकील पर हुई फायरिंग , जाने क्‍या थी वजह ?

पुलिस ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि दीनदयाल बस स्टैण्ड के नया पुल के समीप तीन संदिग्ध लोग खड़े हैं, जिनके पास बड़ी मात्रा में मादक पदार्थ है। सूचना पर पुलिस ने तत्काल ही घेराबंदी कर गोहलपुर त्रिमूर्ति नगर निवासी आरोपी सौरभ सोनी, भोलानगर माढ़ोताल निवासी अंशुल उर्फ अंशु चौधरी व पुरान कंचनपुर निवासी लता केवट को पकड़ा। जिनके पास से मिले चार साड़ियों के थैलों में छिपाकर रखा गया 28 किलों गांजा बरामद हुआ।

भीमनगर बस्‍ती में सुराप्रेमियों के मध्‍य खूनी संघर्ष, देर रात तक चला ड्रामा

जिसमें आरोपी सौरभ सोनी के पास से 10 किलो 150 ग्राम, अंशुल के पास से 9 किलो व लता केवट के पास से 8 किलों 850 ग्राम गांजा बरामद किया गया। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए गांजे के संबंध में पूछताछ शुरु कर दी है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply