शारीरिक कमजोरी
शारीरिक कमजोरी

व्रत को सेहत के लिहाज से काफी अच्छा माना जाता है. लेकिन नवदुर्गा के व्रत में पूरे नौ दिनों तक व्यक्ति अन्न नहीं खाता. ऐसे में उसे कई बार काफी कमजोरी महसूस होती है. इससे बचने के लिए आप यहां बताए जा रहे तरीकों को अपना सकते हैं.

Advertisement

नवरात्रि के दिनों में नौ दिनों के व्रत बेशक आप मातारानी पर अपनी श्रद्धा की वजह से रखते हों, लेकिन वास्तव में ये व्रत आपकी शारीरिक फिटनेस का भी बेहतरीन जरिया हैं. व्रत रखने से आपका शरीर पूरी तरह से डिटॉक्सीफाई हो जाता है. ​तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी सेहत के लिहाज से समय समय पर व्रत रखने की सलाह देते हैं.

Chaitra Navratri 2021: नवरात्र के तीसरे दिन थाली में शामिल करें आलू का हलवा, जानें रेसिपी

लेकिन नवरात्रि के ये व्रत पूरे नौ दिनों के होते हैं, ऐसे में कई बार लोगों को व्रत के दौरान कमजोरी आने लगती है. इसलिए अगर आपने भी इस बार नवरात्रि पर पूरे नौ दिनों का व्रत रखा है तो सेहत से जुड़ी कुछ बातों को जरूर याद रखें.

बॉडी को हाइड्रेट रखिए

वैसे तो व्यक्ति को हमेशा ही बॉडी को हाइड्रेट रखना चाहिए, लेकिन व्रत के दौरान खासतौर पर इस बात का खयाल रखना चाहिए. इसके लिए भरपूर मात्रा में पानी पीएं. साथ ही छाछ, लस्सी, जूस, नारियल पान वगैरह लेते रहें. इन चीजों से आपके शरीर को पोषक तत्व भी मिलेंगे और टॉक्सिन्स फ्लश आउट करने में भी मदद मिलेगी.

तला-भुना न खाएं

व्रत के दौरान ज्यादातर लोग फलाहार के नाम पर साबूदाना वड़ा, कुट्टू की पूड़ी, टिक्की, पकौड़ियां, साबूदाना की खिचड़ी, फ्राइड आलू वगैरह खाते हैं. लेकिन व्रत का मतलब गरिष्ठ चीजें खाना नहीं होता. इससे आपकी समस्या बढ़ती ही है. इसकी जगह पर आप हेल्दी चीजें जैसे फल, जूस, शेक, दूध, ड्राई फ्रूट्स वगैरह लें.

थोड़ा-थोड़ा खाएं

दिनभर के लिए एनर्जी लेवल को मेंटेन करने के लिए एक साथ बहुत सारा न खाएं. थोड़े-थोड़े अंतराल पर खाएं. एक साथ खाने से आपका पाचन तंत्र डिस्टर्ब हो सकता है और आपको भारीपन, आलस आदि समस्याएं महसूस हो सकती हैं.

हैवी वर्कआउट न करें

अगर आप रोज एक्सरसाइज करते हैं, तो ये अच्छी बात है. लेकिन व्रत के दौरान हैवी वर्कआउट से परहेज करें. इससे आपकी कमजोरी बढ़ सकती है. एक्सरसाइज की जगह पर आप योग और मेडिटेशन करें. सुबह और शाम को मॉर्निंग वॉक करें.

पावर नैप लें

व्रत के दौरान आप सामान्य दिनों की अपेक्षा कम खाते हैं, इसलिए एनर्जी भी कम होती है. ऐसे में पावर नैप आपके लिए मददगार है. समय-समय पर पावर नैप्स लेकर आप अपनी एनर्जी को मेंटेन रख सकते हैं और खुद को तरोताजा महसूस कर सकते हैं.

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply