कोरोनाकाल में भी विकास कार्यों को जारी रखने के इरादे से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को 4 अहम मंत्रालयों के कामकाज की समीक्षा की। रक्षा, शिक्षा, ऊर्जा और नागरिक उड्‌डयन मंत्रालय के अफसरों और मंत्रियों के साथ अलग-अलग बैठक कीं। मोदी ने रक्षा मंत्रालय की बैठक में कहा कि देश में ही आधुनिक रक्षा उपकरणों को तैयार करने पर काम करना चाहिए। वहीं, लॉकडाउन के इस समय शिक्षा व्यवस्था न रुके इसके लिए ऑनलनाइन एजुकेशन को बढ़ावा देने पर जोर दिया। उन्होंने इसमें टीवी और रेडियो को भी भागीदार बनाने के लिए कहा है।

Advertisement

तकनीकी संस्थानों की मदद लें, डिफेंस के उपकरण देश में तैयार करें
मोदी ने कहा कि देश में ही सभी तरह के रक्षा उपकरणों को तैयार करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके लिए डिजाइन तैयार करने, उन्हें विकसित करने और उनका निर्माण करने के लिए आयात पर निर्भरता कम करनी चाहिए। इसमें ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा दिया जाना चाहिए और घरेलू क्षमताओं को मजबूत करना चाहिए। इसमें तकनीकी शिक्षण संस्थानों की मदद भी ली जाए। बैठक में आयुध कारखानों की कार्यप्रणाली में सुधार, रिसर्च पर फोकस करने पर भी चर्चा हुई। रक्षा और एयरस्पेस के क्षेत्र में भारत को टॉप-10 देशों की सूची में शामिल करने के उद्देश्य के साथ काम किया जाना चाहिए ।

कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में एयरफोर्स ने एसएमएस अस्पताल पर की पुष्पवर्षा, डॉक्टर्स बोले- दोगुने जोश के साथ काम करेंगे

बिजली के उत्पादन के क्षेत्र में कमी न आए
प्रधानमंत्री ने ऊर्जा मंत्रालय के अफसरों संग बैठक में बिजली उत्पादन पर जोर दिया। अधिकारियों से कहा कि वे सभी उपभोक्ताओं को बिजली की लगातार आपूर्ति सुनिश्चित करने का काम करें। ऊर्जा के क्षेत्र में निजी निवेश को आकर्षित करने के उपायों पर भी चर्चा हुई। पीएमओ की ओर से जारी बयान के मुताबिक बैठक के दौरान बिजली वितरण कंपनियों की स्थिति में सुधार के उपायों पर भी चर्चा की गई। https://youtu.be/gMONbnZ4ops

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply