VD शर्मा ने दिग्विजय सिंह पर लगाया बड़ा आरोप

वीडी शर्मा ने कहा कि इस घटना के तार राघौगढ़ किले से जुड़े हैं, स्थानीय लोगों के अनुसार राघौगढ़ किले से लगे बुधौलिया गांव में अपराधियों को दिग्विजय सिंह द्वारा खुला संरक्षण दिया जा रहा है.
Advertisement

गुना की घटना पर प्रदेशभर में हड़कंप मचा हुआ है. वहीं अब इस मामले में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने इस पूरे मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह पर बड़ा आरोप लगाया है. वीडी शर्मा का कहना है कि इस घटना के तार राघौगढ़ किले से जुड़े हैं

दिग्विजय सिंह आरोपियों को दे रहे खुला संरक्षण
वीडी शर्मा ने कहा कि इस घटना के तार राघौगढ़ किले से जुड़े हैं, स्थानीय लोगों के अनुसार राघौगढ़ किले से लगे बुधौलिया गांव में अपराधियों को दिग्विजय सिंह द्वारा खुला संरक्षण दिया जा रहा है. इसलिए दिग्विजय सिंह इस बात का जवाब दें कि इन दुर्दांत अपराधियों के साथ उनका क्या सम्बन्ध है!.

गुना में शिकारियों-पुलिस के बीच मुठभेड़, 3 जवान शहीद

पूरे मामले की जांच होनी चाहिए 
वीडी शर्मा ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि इस पूरे मामले की जांच करवाई जानी चाहिए कि अपराधियों के तार दिग्विजय सिंह से कैसे जुड़े हैं. आरोपियों के पास इतनी बड़ी संख्या में हथियार कैसे आए और किसके संरक्षण में आए हैं. इन सबकी बारीकि से जांच होनी चाहिए. वीडी शर्मा का कहना है कि स्थानीय लोगों से उन्हें इस बात की जानकारी मिली है कि राघौगढ़ किले से इस तरह के अपराधियों को संरक्षण मिलता है और पहले भी इस तरह के काम होते रहे हैं.

वीडी शर्मा के आरोपों के बाद प्रदेश की सिसायत गर्माती नजर आ रही है. हालांकि अब तक इस मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी या दिग्विजय सिंह की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है. लेकिन वीडी शर्मा के आरोपों के बाद मामला और बढ़ता नजर आ रहा है.

OBC आरक्षण पर शिवराज सरकार ने खेला आखिरी दांव,सुप्रीम कोर्ट में मंजूर हुई संशोधन याचिका,यह दिए थे तर्क

क्या है पूरा मामला 
दरअसल, गुना के आरोन में वन्य जीवों का शिकार करने पहुंचे शिकारियों और पुलिस के जवानों के बीच मुठभेड़ हो गई. इस मुठभेड़ में पुलिस के 3 जवानों के शहीद हुए हैं. शिकारियों ने पुलिस टीम पर अंधाधुंध गोलियां चला दीं, जिसमें तीन जवानों की मौत हो गई. पुलिस को शिकारियों द्वारा काले हिरण का शिकार करने की सूचना मिली थी.

सेक्स करते समय पत्नी कि मौत,मैरिज एनिवर्सरी पर सेक्स पॉवर को चैलेंज करना पड़ा भारी

जिसके बाद देर रात पुलिस ने शिकारियों को आरोन थाना क्षेत्र के बरखेड़ा गांव में घेर लिया. पुलिस द्वारा चारों तरफ से घिर जाने के बाद शिकारियों ने पुलिस टीम पर गोलियां चला दीं. जिसमें एसआई राजकुमार जाटव, हवलदार संतराम मीना, आरक्षक नीरज भार्गव की मौत हो गई. फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं.

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रोजगार की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply