मध्य प्रदेश सरकार प्रदेश के तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के 10 लाख कर्मचारियों को चार सौगातें देने जा रही है।
shivraj singh chouhan
Share this News

प्रदेश के 10 लाख कर्मचारियों को सरकार देगी 4 सौगातें, नई भर्तियों में प्रोबेशन पीरियड में भी 70% की जगह देंगे 100% वेतन

मध्य प्रदेश सरकार प्रदेश के तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के 10 लाख कर्मचारियों को चार सौगातें देने जा रही है। हालांकि प्रोबेशन पीरियड को 4 साल से घटाकर 2 साल करने जा रही है जिसमें सरकारी भर्ती में जॉइनिंग के समय से ही कर्मचारियों को 100% वेतन दिया जाएगा आपको बता दें अब तक सरकारी भर्ती में कर्मचारियों को प्रोबेशन पीरियड के समय 70% वेतन दिया जाता था

1.90 लाख आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को जल्द मानदेय में 1500 रु. और सहायिकाओं को 750 रु. बढ़कर मिलेंगे। राज्य में जब भी डीए बढ़ेगा, उसका भुगतान एक जनवरी 2023 से ही किया जाएगा। वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा का कहना है कि 2018 के पहले हमने जो लाभ दिए, उन्हें कांग्रेस सरकार ने 2019 में बंद कर दिया था। इन्हें हम फिर जल्द शुरू करने जा रहे हैं।

मानदेय बढ़कर 11500 और 5750 रु. होगा, लाड़ली बहना का भी लाभ मिलेगा

1 लाख 90 हजार आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 1500 रु. तो सहायिकाओं को 750 रु. बढ़ा हुआ मानदेय दिया जाएगा। इसकी घोषणा इसी महीने होने की संभावना है। अभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 10000 रु. तो सहायिकाओं को 5000 रु. मासिक मानदेय मिलता है। बढ़ने के बाद नया मानदेय क्रमश: 11500 और 5750 रु. हो जाएगा।

प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के केस,एक बार फिर लगेगा लॉकडाउन !,जनता में खौफ

इन्हें लाड़ली बहना योजना के 1 हजार रुपए हर महीने अतिरिक्त मिलेंगे। कांग्रेस सरकार के समय कार्यकर्ताओं का मानदेय घटाकर 10000 रु. कर दिया था।

7.50 लाख कर्मचारियों को 1 जनवरी से ही राज्य सरकार देगी बढ़ा हुआ डीए

प्रदेश के 7.50 लाख कर्मचारियों के बढ़े हुए डीए (महंगाई भत्ता) की घोषणा जब भी हो, लेकिन इसका एरियर एक जनवरी से ही दिया जाएगा। अभी केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों का डीए 38% से बढ़ाकर 42% किया है, जबकि राज्य कर्मचारियों को अभी 38% ही डीए मिल रहा है।

सरकारी विभागों में प्राइवेट गाड़ियां लगाकर हो रहा लाखों का भ्रष्टाचार.!

इस साल विधानसभा चुनाव हैं, ऐसे में राज्य कर्मचारियों के नए डीए की घोषणा जल्द की जा सकती है। कोरोना के दौरान पिछले दो सालों से वित्तीय स्थिति गड़बड़ाने से कर्मचारियों को केंद्रीय तिथि से डीए नहीं मिल पा रहा था।

कांग्रेस सरकार ने 4 साल किया था, अब 2 साल होगा

2018 के पहले तक कर्मचारी चयन मंडल (पूर्व में व्यापमं) से भर्ती होने पर तृतीय-चतुर्थ कर्मचारी को ज्वाइनिंग की तारीख से दो साल का प्रोबेशन पीरियड मिलता था। 2019 में कांग्रेस सरकार ने प्रोबेशन पीरियड चार साल कर दिया। इस अवधि को सीनियोरिटी में नहीं जोड़ने का आदेश दिया।

अनुकंपा नियुक्ति की ताजा जानकारी 2023,सरकार द्वारा अनुकंपा नियुक्ति की व्यवस्था व पात्रता

इसके तहत कर्मचारियों को पहले साल में 70%, दूसरे में 80%, तीसरे में 90% और चौथे साल में 100% वेतन दिया जाने लगा। इस नियम से अब तक 60 हजार लोग भर्ती हो चुके हैं। अब भाजपा सरकार इस नियम को बदलने जा रही है। इसमें प्रोबेशन पीरियड चार से घटाकर दो साल करने जा रही है।

विभागों को पदोन्नति के अपने नियम बनाने की छूट

पदोन्नति का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है, इसलिए सरकार नए पदोन्नति नियम बनाने का रास्ता निकाल रही है। नई व्यवस्था के मुताबिक कर्मचारियों को पदोन्नति उच्च पद पर तो दी जाएगी, लेकिन पद के साथ प्रभारी लिखा होगा। इसके लिए विभाग अपने-अपने भर्ती नियमों में बदलाव करेंगे।

Download our App Now