कोरोना काल में जहां पुलिसकर्मी फ्रंट लाइन वर्कर बन लोगों की सेवा भी कर रहे हैं और कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन भी करवा रहे हैं. लेकिन अपनी ड्यूटी करते समय कई पुलिसकर्मी या तो कोरोना का शिकार हुए या फिर उनके साथ कोई दूसरी दुखद दुर्घटना हुई है. ताजा मामला दिल्ली के वसंत विहार का है जहां पर एक पुलिस कांस्टेबल पर गाड़ी चढ़ा दी गई और उन्हें 40 मीटर तक घसीटा गया और फिर अस्पताल में उनकी मौत हो गई.

Advertisement

भोपाल की सांसद के बंगले पर कोरोना ने दस्तक दी

घटना शनिवार सुबह चार बजे की बताई जा रही है जब पुलिस कांस्टेबल मुंशीलाल अपनी पिकेट पर ड्यूटी कर रहे थे. लेकिन तभी एक सफेद रंग की गाड़ी तेज गति से उनकी तरफ आई और उन्हें टक्कर मार गई. ये भिड़ंत इतनी जोरदार रही कि पुलिस का टेंट भी तबाह हो गया और वहां खड़ी बाइक भी पूरी तरह चकनाचूर हो गई. कार उन्हें 40 किलोमीटर तक घसीटती चली गई. घटना में पुलिस कांस्टेबल बुरी तरह से जख्मी हो गए और उन्हें AIIMS में भर्ती कराया गया. लेकिन चोटें इतनी गहरी रहीं कि डॉक्टरों के तमाम प्रयासों के बावजूद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका.

भोपाल में किराना सामान की होम डिलीवरी:प्रशासन ने 54 व्यापरियों को दी अनुमति

पुलिस ने आरोपी समित यादव को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ के दौरान समित ने बताया है कि वे गुड़गांव के मैक्स अस्पताल से वापस आ रहे थे. वहां पर उनकी पत्नी का कोविड का इलाज जारी है. लेकिन वापस आते समय उनकी आंख लगी और ये दुर्घटना हो गई. पुलिस की तरफ से कई धाराओं में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. वहीं क्योंकि आरोपी की पत्नी कोविड पॉजिटिव हैं, ऐसे में समित को एक पीपीई किट पहनाई गई है और उन्हें पुलिस स्टेशन में आइसोलेट कर दिया गया है. खबर है कि पुलिस समित का बहुत जल्द मेडिकल टेस्ट भी करने जा रही है. ये जानने की कोशिश रहेगी कि आरोपी ने गाड़ी चलाते समय नशा कर रखा था या नहीं.

इस डेट को जारी होंगे CBSE 10वीं के रिजल्‍ट, बोर्ड ने की घोषणा

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply