भोपाल कलेक्ट्रेट में नौकरी के नाम पर ठग,60,हजार मंथली सैलरी का झांसा देकर दो लाख ठगे

भोपाल कलेक्ट्रेट में नौकरी के नाम पर ठग,60,हजार मंथली सैलरी का झांसा देकर दो लाख ठगे

Share this News

भोपाल कलेक्ट्रेट में नौकरी लगवाने के नाम पर बेरोजगारों से 1 लाख 95 हजार ठगे,ज्यादा सैलरी का लालच देकर झांसे में में लेकर ठगी।

भोपाल कलेक्ट्रेट में नौकरी लगवाने के नाम पर बेरोजगारों से 1 लाख 95 हजार ठगे। फरियादी की ठग से डॉक्टर की क्लीनिक पर काम करने के दौरान हुई। आरोपी लैब में टेस्ट कराने आए थे तभी उसके ज्यादा सैलरी का लालच देकर झांसे में ले लिया। फरियादी के साथ उसके मिलने वालों को भी झांसे में लेकर ठगी की। पुलिस मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश कर रही है।

शिवराज बोले-मेरे तरकश में बहुत तीर ये मध्यप्रदेश है जीत का रिकॉर्ड बनाएंगे

बता दें मूलत: गंजबसौदा, विदिशा का रहने वाला विशाल बघेल (25) पुत्र सरवन बघेल भोपाल की रतन कॉलोनी में रहकर लैब में काम करता था। लैब में टेस्ट कराने आए धर्मेंद्र नायक से उसकी मुलाकात हुई। धर्मेंद्र ने विशाल को कलेक्ट्रेट में नौकरी लगवाने की बात। बोला कंप्यूटर चलाने का 60 हजार रुपए महीना मिलेगा। जिसके के लिए 65 हजार रुपए लगेंगे। फरियादी जालसाज के बहकावे में आ गया। उसने ये बात अपने दोस्त जय प्रकाश पंडित और यश प्रजापति को बताई। तीनों दोस्त पैसे देने को तैयार हो गए। तीनों ने अलग-अलग माध्यम से नौकरी के लिए 1 एक 95 हजार रुपए दिए।

यात्रियों को होटल लाने के कमीशन की बात पर तलवार से हमला, छीनाझपटी का भी आरोप

सारी जमा पूंजी ले गया ठग
विशाल बघेल ने बताया कि जय प्रकाश पंडित ने धर्मेंद्र के कहने पर गोविंद तिवारी नाम के व्यक्ति को पैसे दिए। विशाल ने 12वीं तक पढ़ाई की है, जबकि जय प्रकाश पुणे से एलएलबी कर रहा है और यश प्रजापति लैब टेक्नीशियन का कोर्स कर रहा है। लंबा समय बीतने के बाद जब नौकरी नहीं मिली तो तीनों ने अपने पैसे वापस मांगे। इस पर जालसाज ने पैसे देने से मना कर दिया और धमकी दी जाओ जो करना है कर लो। विशाल का कहना है अच्छी नौकरी के लिए किसी तरह पैसे जमा करके दिए थे।

Download our App Now

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..