सिहोरा कोर्ट परिसर के बाहर बीती शाम गनियारी निवासी अधिवक्ता 32 वर्षीय सूर्यभान सिंह राजपूत के ऊपर फायरिंग कर जानलेवा हमला करने वाले आरोपियों की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रहीं है। वहीं वकील साथी पर हुए हमले के बाद सिहोरा कोर्ट के वकील व जबलपुर जिला अदालत के वकीलों ने मोर्चा खोल दिया है। उक्त हमले के विरोध में वकीलों ने न्यायलयीन कार्य से विरत् रहकर अपना विरोध जताते हुए आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग करते हुए दोपहर में बड़ी तादाद में पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर एसपी को ज्ञापन सौंपा।

Advertisement

अत्याचार से तंग आकर पिता को जिंदा जलाया, युवती को पुलिस ने किया गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि गत सोमवार की शाम करीब 5 बजे के लगभग सिहोरा कोर्ट से काम कर बाहर आये अधिवक्ता सूर्यभान सिंह राजपूत जैसे ही अपने वाहन की ओर बढ़े, वैसे ही स्कूटी सवार दो बदमाशों ने उन पर गोली दाग दी थी, जो कि उनके पेट में नाभी के ऊपर जा धंसी थी। जिसके बाद पूरे कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया था। घायल अधिवक्ता को तत्काल ही अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से उन्हें जबलपुर निजी अस्पताल रेफर किया गया, जहां उनकी हालत अब खतरे से बाहर बतायी जा रहीं है। वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए मामले की पुरानी हिस्ट्री भी खंगालनी शुरु कर दी थी।

FB की दोस्‍ती जिस्‍मानी रिश्‍तों में बदली, संबंध बनाने से इनकार पर पत्‍थर से कुचल डाला

एक साल पुराना विवाद :

उक्त गोलीकांड के पीछे एक साल पुराने विवाद को जोड़कर देखा जा रहा है। सूत्रों की माने तो अधिवक्ता के पिता व समीप के गांव के निवासी पिछले साल कोई विवाद हुआ था। जिसमें एक युवक की मौत होना भी बताया जा रहा है। इसी पूरे मामले को लेकर उक्त वारदात को जोड़कर देखा जा रहा है, लेकिन पुलिस ने अब तक कुछ भी कहने से इंकार किया है। पुलिस का कहना है वह आरोपियों की पतासाजी कर रहीं है और जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जायेगा। वहीं चर्चा है कि पुलिस ने बीती रात ही कुछ संदेहियों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ जारी है, वहीं सुशील व राहुल नामक युवकों के नाम भी फायरिंग में सामने आये है।

भोपाल में प्रेमी जोड़े ने ट्रेन से कटकर जान दी; ड्राइवर ने हॉर्न बजाया, चिल्लाया भी, पर दोनों हाथ पकड़े खड़े रहे

वकीलों ने न्यायलयीन कार्य से विरत रहकर जताया विरोध :

वहीं वकील पर हुए प्राणघातक हमले के विरोध में जबलपुर जिला अधिवक्ता संघ ने न्यायलयीन कार्य से विरत् रहकर अपना विरोध जताया। वहीं सिहोरा कोर्ट के वकीलों ने भी विरोध प्रदर्शन कर आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है। वहीं हाईकोर्ट और स्टेट बार कौंसिल के पदाधिकारियों ने उक्त हमले की कड़ी निंदा करते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की है। दोपहर 2 बजे वकीलों ने सैकड़ों की तादाद में कोर्ट परिसर से पैदल पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर एसपी को ज्ञापन सौंपा।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply