कोरोना ने पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है, लोगों को ऑक्सीजन की कमी से जूझना पड़ रहा है. इराक भी इससे अछूता नहीं है लेकिन वहां ऑक्सीजन को लेकर ही एक ऐसा हादसा हुआ है जिसने 82 लोगों की जान ले ली है. दरअसल वहां एक कोविड अस्पताल के ऑक्सीजन टैंक में हुए विस्फोट में 82 लोगों की मौत हो गई.

Advertisement

1 मई से कोविन या आरोग्‍य सेतु एप पर रजिस्‍ट्रेशन कराने पर ही लगेगी कोरोना वैक्‍सीन

इतना ही नहीं इस हादसे में 110 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं. इराक के आंतरिक मंत्रालय के मुताबिक राजधानी बगदागद के इब्न अल-खतीब कोविड अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक में भीषण धमाका हुआ. इससे वहां उपचार करा रहे 82 मरीजों की मौत हो गई. इस घटना की पुष्टि वहां की मीडिया और आंतरिक मंत्रालय के मंत्री ने भी की है.

भोपाल में 4 मई तक बढ़ा लॉकडाउन

रिपोर्ट के मुताबिक अस्पताल के अधिकारियों की लापरवाही की वजह से यह धमाका हुआ और वहां आग लग गई. जानकारी के मुताबिक इब्न अल-खतीब अस्पताल के कोरोना वार्ड में ऑक्सीजन सिलेंडर में विस्फोट हुआ था. इराक के प्रधानमंत्री ने इस घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से नौकरी से बर्खास्त कर दिया.

लॉकडाउन की वजह से नहीं मिल पाई शराब तो पी लिया हैंड सैनिटाइजर, 7 लोगों की मौत

कोविड अस्पताल में वहां जिस वक्त यह हादसा हुआ उस समय कोरोना वायरस से गंभीर रूप से संक्रमित कम से कम 28 मरीज वेंटिलेटर पर थे. यह जानकारी इराक के स्वतंत्र मानवाधिकार आयोग के प्रवक्ता अली अल-बयाती ने दी.

कोरोना पॉजिटिव गर्भवती पत्नी के लिए शख्स ने हाईजैक कर ली ऑक्सीजन वाली एम्बुलेंस, जानिए क्‍या है पूरा मामला ?

हादसे का जो वीडियो सामने आया है उसमें दमकलकर्मियों को आग बुझाते हुए और मरीजों को उनके रिश्तेदारों द्वारा वहां से निकालने की कोशिश करते हुए दिखाया गया है. इराक के अस्पतालों को दशकों के संघर्ष और अशांति के कारण, दवाओं और अस्पताल में बेड की कमी से जूझना पड़ रहा है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply