पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा में 110 शिक्षकों की ड्यूटी,डीईओ बोले कलेक्टर का आदेश

पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा में 110 शिक्षकों की ड्यूटी,डीईओ बोले कलेक्टर का आदेश

Share this News

 

बागेश्वर धाम के कथावाचक पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा में व्यवस्था बनाने के लिए प्रशासन ने 110 शिक्षकों की ड्यूटी लगा दी। इतना ही नहीं 10 शिक्षकों को रिजर्व में भी रखा गया हैं।

 

राजगढ़। खिलचीपुर में चल रही बागेश्वर धाम के कथावाचक पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा में व्यवस्था बनाने के लिए प्रशासन ने 110 शिक्षकों की ड्यूटी लगा दी। इतना ही नहीं 10 शिक्षकों को रिजर्व में भी रखा गया हैं। उधर डीईओ का कहना है कि कलेक्टर के आदेश पर ड्यूटी लगाई गई है।

खिलचीपुर में 25 जून से धार्मिक आयोजन शुरू हो चुके हैं। पहले दिन एक जैसे परिधानों में महिलाओं द्वारा क़लश यात्रा निकाली गई थी। इसके बाद 26 जून से हनुमंत कथा शुरू हो चुकी है। पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री द्वारा 28 जून तक कथा की जाएगी, जबकि 29 जून को भंडारे का आयोजन होगा।
डीईओ बोले कलेक्टर के आदेश पर लगाई ड्यूटी
पूरे मामले को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी करणसिँह भिलाला का कहना है कि कथा में हमने कलेक्टर साहब के आदेश पर ड्यूटी लगाई है। जिला प्रशासन का सहयोग करने के लिए लगाई गई है। उनके कहने पर ही यह ड्यूटी लगाई गई है.

मीसा बंदियों की पेंशन बढ़कर होगी 30 हजार,CM का ऐलान

इसके लिए बाकायदा जिला शिक्षा अधिकारी केएस भिलाला ने एक लिखित आदेश जारी कर दिया जिसमें 110 शिक्षकों के नाम लिखे गए हैं। आदेश में कहा गया है कि ला एन्ड आर्डर को देखते हुए ड्यूटी लगाई गई है। यह लोग अधिकारियो व व्यवस्थापकों के साथ मिलकर व्यवस्था संभालेंगे। 29 जून तक मौके पर ही रहकर व्यवस्था देखेंगे।
स्कूलों से हटाकर कथा में ड्यूटी
खास बात यह हैं कि इस धार्मिक आयोजन में प्रशासन द्वारा शिक्षकों की ड्यूटी लगा डाली। ऐसा पहली ही बार ही देखने को मिला है जब किसी धार्मिक आयोजन में शिक्षकों की ड्यूटी लगा दी गई।
उधर शिक्षक संघ के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष उपेंद्र कौशिक ने कहा कि यह गलत है। टीचरों की ड्यूटी कथा में नहीं लगाई जाना चाहिए। उन्होंने पूरे कार्यक्रम से शिक्षकों को हटाने की मांग की और कहा कि हम कथा के विरोधी नहीं हैं, लेकिन कथा में ड्यूटी लगाना गलत है।
Advertisement
Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..