बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने टीम के साथ बुरी तरह मारपीट की।

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने वेब सीरीज आश्रम-3 का नाम नहीं बदलने पर भोपाल में शूटिंग नहीं होने देने का किया ऐलान

Advertisement

भोपाल में वेब सीरीज आश्रम-3 की शूटिंग के दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने फिल्म निर्माता प्रकाश झा के साथ झूमाझटकी कर दी। उन पर स्याही भी फेंकी। शूटिंग पुरानी जेल (अरेरा हिल्स) में चल रही थी। कार्यकर्ताओं ने जेल परिसर के अंदर ही वेब सीरीज की टीम के कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। वैनिटी वैन समेत 5 गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। हमले में चार से पांच कर्मचारियों को चोट लगी है। कुछ मीडियाकर्मियों से भी मारपीट की गई। घटना की सूचना मिलने के बाद में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया।

वैनिटी वैन समेत 5 गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई।

इस पूरे मामले में प्रकाश झा ने पुलिस में शिकायत करने से इनकार कर दिया है। वह मीडिया के सामने भी नहीं आए। विरोध करने वाले बजरंग दल के पदाधिकारियों ने झा पर आरोप लगाया कि वह आश्रम-3 वेब सीरीज के जरिए हिंदू धर्म को बदनाम कर रहे हैं। उन्हें फिल्म का नाम बदलना होगा, नहीं तो भोपाल में शूटिंग नहीं होने दी जाएगी। घटना के दौरान वेब सीरीज के एक्टर बॉबी देओल भी मौजूद थे।

भोपाल के बड़े तालाब में धक्का देकर दोस्त ने की युवक की हत्या,एक्टिवा-पर्स लेकर भागा दिल्ली में पकड़ाया

रविवार शाम 6 बजे वेब सीरिज आश्रम-3 की पुरानी जेल में शूटिंग चल रही थी। इसी दौरान दो-ढाई सौ की संख्या में बजरंग दल के कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए जेल परिसर में घुस आए। वह हंगामा करने लगे। बात करने के लिए उन्होंने प्रकाश झा को बुलाया। इसी दौरान उग्र कार्यकर्ताओं ने झा के साथ झूमाझटकी कर दी। उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने कार्यकर्ताओं से किसी तरह अलग कराया। इसके बाद प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने परिसर में खड़ी वैनिटी वैन, कार, ट्रक में रखे सामान, मशीनरीज में तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। जब फिल्म टीम के कर्मचारियों ने इसका विरोध किया तो उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। पुलिस मामले में प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने की बात कह रही है।

T20 वर्ल्डकप से जुड़े सभी समाचार अपने व्हाट्सएप में पाने के लिए क्लिक करें

घायल कर्मचारी बोला-प्रदेश की बदनामी
हमले के दौरान जेल में अफरा-तफरी मच गई। विरोध से बचने के लिए बॉबी देओल, प्रकाश झा वैनिटी वैन में बैठे रहे। वैनिटी वैन को पुलिस ने सुरक्षा घेरे में ले रखा था। पुलिस वैन के पास किसी को नहीं जाने दे रही थी। इसके साथ ही हमले में घायल एक कर्मचारी राजवीर ने कहा कि शूटिंग के दौरान हमला गलत है। प्रदेश की इससे बदनामी होती है। इस तरह से आगे कोई शूटिंग करने मध्य प्रदेश नहीं आएगा।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply