Dhanteras 2021: क्यों धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदने का है विशेष महत्व ? इन बातों का रखें खास ध्यान

Dhanteras 2021: क्यों धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदने का है विशेष महत्व ? इन बातों का रखें खास ध्यान

Share this News

धनतेरस के दिन वाहन के लिए भुगतान करने से बचें, वाहन को राहु काल में घर में नहीं लाना चाहिए, इसके अलावा, यह भगवान धनवंतरि का दिन है इसलिए इस दिन औषधि भी खरीदी जा सकती है

Dhanteras 2021: मां लक्ष्मी के पूजन के पर्व दीपावली से दो दिन पहले पड़ने वाला धनतेरस का त्योहार देव वैद्य श्री धनवंतरि जी और लक्ष्मी जी के खजांची माने जाने वाले कुबेर को याद करने का दिन है. दिवाली से पहले कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाए जाने वाले ‘धनतेरस’ को ‘धनवंतरि त्रयोदशी’ भी कहा जाता है. इस दिन सोने चांदी की कोई चीज या नए बर्तन खरीदने को अत्यंत शुभ माना जाता है. धनतेरस के दिन लक्ष्मी जी के साथ धनवंतरि जी और कुबेर की भी पूजा की जानी चाहिए क्योंकि कुबेर जहां धन का जोड़-घटाव रखने वाले हैं. वहीं धनवंतरि जी ब्रह्मांड के सबसे बड़े वैद्य हैं.

अब सब्यसाची के मंगलसूत्र विज्ञापन पर भड़के मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, दिया अल्टीमेटम

धनतेरस पर कुबेर जी के बिना लक्ष्मी जी की पूजा अधूरी

धनतेरस के दिन पूजा के लिए सबसे सही समय प्रदोष काल के दौरान होता है जब स्थिर लग्न प्रचलित होती है. माना जाता है कि अगर स्थिर लग्न के दौरान धनतेरस पूजा की जाए तो लक्ष्मी जी घर में ठहर जाती हैं. वृषभ लग्न को स्थिर माना गया है और दीवाली के त्योहार के दौरान यह अधिकतर प्रदोष काल के साथ ही चल रही होती है. धनतेरस पर कुबेर जी के बिना लक्ष्मी जी की पूजा अधूरी रहती है. धनवंतरी जी हिन्दू धर्म की मान्यताओं के मुताबिक देवताओं के वैद्य हैं. उन्हें भगवान विष्णु का अवतार माना जाता है. तथा उनकी चार भुजाएं हैं. ऊपर की दोनों भुजाएं शंख और चक्र धारण किए हुए हैं. जबकि दो अन्य भुजाओं में से एक में जलूका और औषधि साथ ही दूसरे में अमृत कलश है. बता दें कि इनकी प्रिय धातु पीतल है. आयुर्वेद की चिकित्सा करने वाले वैद्य इन्हें आरोग्य का देवता कहते हैं.

धनतेरस के दिन क्या करें ?

धनतेरस के दिन सिर्फ नई वस्तुओं की खरीदारी ही नहीं की जाती बल्कि दीप भी जलाए जाते हैं. इस दिन प्रवेश द्वार पर जलाए जाने वाले दीपकों के बारे में मान्यता है कि इनकी वजह से घर में अकाल मौत का डर खत्म हो जाता है और परिवार की लौ हमेशा जलती रहती है. इसे यम दीया भी कहते हैं. धनतेरस पर नए बर्तन खरीदने की परंपरा के बारे में कहा जाता है कि धनवंतरि जब प्रकट हुए थे तो उनके हाथों में अमृत से भरा कलश था. इसी के बाद से ही उनके जन्मदिन पर नए बर्तन खरीदने का चलन शुरू हुआ. यह भी माना जाता है कि इस दिन वस्तु खरीदने से उसमें 13 गुणा वृद्धि होती है. दीपावली की रात लक्ष्मी गणेश जी की पूजा करने के लिए लोग उनकी मूर्तियां भी धनतेरस के दिन ही खरीदते हैं

सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर में यूं दिखी कुशल महिला व्यापारी, ग्राहक को परोसी फलहारी खिचड़ी

धनतेरस के दिन किन चीजों की खरीदारी करें ?

1. लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति खरीदें और दीपावली के दिन इसी की पूजा करें
2. अगर आप भी धनतेरस के दिन नई गाड़ी लेना चाह रहे हैं तो ऐसा कर सकते हैं लेकिन उसके लिए भुगतान पहले ही कर दें
3. धनतेरस के दिन वाहन के लिए भुगतान करने से बचें, वाहन को राहु काल में घर में नहीं लाना चाहिए
4. सोना और चांदी की वस्तुएं खरीदना शुभ है. इस दिन रत्न खरीदना भी फायदेमंद होता है
5. इस दिन अगर कपड़े खरीद रहे हैं तो सफेद या लाल रंग के कपड़ों को प्राथमिकता दें
6. संपत्ति खरीदना इस दिन बेहद शुभ माना जाता है

https://youtu.be/hd8te9VTmHE

7. दक्षिणवर्ती शंख, कमलगट्टे की माला, धार्मिक साहित्य और रुद्राक्ष की माला इस दिन खरीदना शुभ माना जाता है
8. यह भगवान धनवंतरि का दिन है इसलिए इस दिन औषधि भी खरीदी जा सकती है
9. स्टील और पीतल के बर्तन लिए जा सकते हैं
10. धनतेरस के मौके पर झाड़ू खरीदना भी अच्छा माना जाता है. इससे नकारात्मक ऊर्जा घर से बाहर चली जाती है
11. धनतेरस के दिन नमक लाने से घर में धन और सुख शांति आती है

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

CBSE 10th क्लास के सैंपल पेपर जारी,ऐसे करें डाउनलोड Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा।