प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे ने निर्देश दिया है कि उच्चतम न्यायालय के डिप्टी रजिस्ट्रार और उसके ऊपर की श्रेणी के अधिकारी या रजिस्ट्री में उनके समकक्ष पद के अधिकारी चार मई से कार्यालय आएंगे।

Advertisement

शीर्ष अदालत ने 25 मार्च से लॉकडाउन शुरू होने से कुछ दिन पहले 23 मार्च से अपने कामकाज को सीमित कर दिया था और वर्तमान में वीडियो-कांफ्रेंसिंग के माध्यम से तत्काल मामलों की सुनवाई कर रही है।

इसमें कहा गया कि उपरोक्त उल्लेखित आदेशों के आंशिक संशोधन के तहत भारत के प्रधान न्यायाधीश को यह निर्देश देते हुए प्रसन्नता हो रही है कि डिप्टी रजिस्ट्रार और इससे ऊपर की श्रेणी के अधिकारी या रजिस्ट्री में उनके समकक्ष पद के अधिकारी चार मई से कार्यालय में उपस्थित होंगे।

इसमें कहा गया कि शेष कर्मचारी पूर्व में अधिसूचित ऐसे नियमों और शर्तों के तहत घर से काम करना जारी रखेंगे, हालांकि संबंधित रजिस्ट्रार किसी भी अन्य अधीनस्थ अधिकारी या कर्मचारियों को किसी भी आवश्यकता को पूरा करने के लिए कार्यालय में उपस्थित होने का निर्देश दे सकते हैं। इस तरह के निर्देश पर, ऐसे अधिकारी या कर्मचारी उस दिनांक और समय पर कार्यालय में ड्यूटी के लिए उपस्थित होंगे https://youtu.be/yAfUGDuVKao

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply