उज्जैन: कोरोना से मध्यप्रदेश में पहली मौत की सूचना आ रही है। बुधवार सुबह जिन 5 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई थी, उसमें से उज्जैन निवासी 65 वर्षीय महिला की दोपहर 3 बजे मौत हो गई है। वो इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती थी। स्वजन ने मौत की पुष्टि की है।

Advertisement

इससे पहले उज्जैन शहर में एक कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद उज्जैन में कर्फ्यू लगा दिया गया है। जानकारी के मुताबिक महिला मरीज को 22 मार्च को उज्जैन के चैरिटेबल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, ज्यादा सर्दी-खांसी के बाद उसे माधव अस्पताल में शिफ्ट किया गया और इसके बाद कोरोना वायरस के लक्षण दिखने के बाद मरीज को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया । जहां बुधवार सुबह उन्हें कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया।

चीन में एक ओर वायरस की दस्तक

उज्जैन कलेक्टर ने कहा- सभी अपने घरों में रहें!

कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी शशांक मिश्र ने आमजन से अनुरोध किया है कि वह अपने घरों में रहें। कोरोनावायरस ने उज्जैन में दस्तक दे दी है इसलिए सतर्कता अत्यंत ही आवश्यक है। कलेक्टर ने कहा है कि यदि किसी व्यक्ति को डॉक्टरों द्वारा होम क्वॉरेंटाइन के निर्देश दिए गए हैं तो वह इसका अनिवार्य रूप से पालन करें तथा घर में अलग कमरे में आइसोलेशन में रहे। उन्होंने कहा है कि सामान्य सर्दी खांसी के मरीज घबराएं नहीं और अपने-अपने घर में रहकर आइसोलेशन मेंटेन करें।

कोरोना का कहर: 21 दिन के लॉकडॉउन पर मोदी ने कहा- यह एक तरह से कर्फ्यू ही है..

लोग यदि बहुत जरूरी काम से बाहर निकलते हैं तो हैंड वॉश और मास्क का उपयोग करें । कलेक्टर ने कोरोना वायरस से लड़ाई में सभी लोगों से सहयोग का आह्वान किया है तथा कहा है कि वे शासन प्रशासन एवं स्वास्थय विभाग द्वारा दिए जाने वाले निर्देशों का कड़ाई से पालन करें ।घबराए नहीं घर में रहकर ही सुरक्षित रहें ।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply