नागपुर: रोजगार के लिए गए मजदूरों को खाना-पीना नहीं मिलने से वे पैदल ही बालाघाट जिले की ग्राम पंचायत तिरोड़ी तक 140 किमी दूरी तय करते हुए पहुंच गए।

Advertisement

भारत में सामने आई Coronavirus की पहली तस्वीर, देश के पहले मरीज से लिया गया था नमूना

नागपुर से पैदल आए दर्जनभर से अधि‍क लोगों को तिरोड़ी पंचायत में सरपंच आनंद राव ब्रम्हैया द्वारा रुकवाकर उनकी भोजन पानी, स्वास्थ्य सहित अन्य समुचित व्यवस्था पूरी की गई। इसके बाद एसडीएम कटंगी रोहित बम्होरे, तहसीलदार तिरोड़ी शोभना ठाकुर को जानकारी से अवगत कराया गया।

लॉकडाउन में इंदौर से गांव पहुंचे पिता-पुत्र, निकले कोरोना पॉजिटिव

इनके द्वारा इन लोगों को बस व अन्य साधन मुहैया करवाते हुए उनके गंतव्य तक पहुंचाया गया, जिससे आम नागरिकों में शासन प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ा है।

गैंगरेप: लॉकडाउन के चलते मदद के लिए बुलाए दोस्त और उसके साथी ने, फिर 8 और ने..

सरपंच आनंद राव ब्रम्हैया ने बताया कि ये लोग कटंगी व बालाघाट क्षेत्र के हैं जो नागपुर की ओर मजदूरी करने गए थे, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से काम पर पाबंदी लगी है। जिसके कारण बाहर गए लोगों को काम नहीं मिलने से परेशानियां हो रही थीं। इसी वजह से वे पैदल ही नागपुर से तिरोड़ी पंचायत तक पहुंच गए। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों को ग्राम पंचायत भवन, सामुदायिक भवन सहित अन्य जगहों पर रोककर उनकी मदद कर उनके गांवों तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply