नई दिल्ली: कोरोना वायरस के संकट के कारण देशों के कई शहरों में बंद जैसे हालात हो चुके है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भी रविवार, 20 मार्च को देशवासियों से

Advertisement
‘जनता कर्फ्यू’ की अपील है, जिसका असर जनता में सकरात्मक रुप से देखने को मिल रहा है व सभी पालन करते नजर आ है। मोदी जी द्वारा किए गए ऐलान के बाद अब दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (DMRC) ने अहम कदम उठाया है।

बागी विधायक राठखेड़ा की बेटी ने आत्महत्या की..

दरअसल, डीएमआरसी ने ‘जनता कर्फ्यू’ के तहत यह फैसला लिया है कि, रविवार, 20 मार्च को दिल्ली मेट्रो बंद रहेगी।

कोरोना वायरस से सावधानी और जनता कर्फ्यू के मद्देनजर पहली बार दिल्ली मेट्रो की सेवा का परिचालन पूरे एक दिन के लिए बंद रहेगा। इस बारे में DMRC ने हाल ही में आज शुक्रवार (20 मार्च) को इसकी जानकारी दी। बता दें कि, इतिहास में कभी भी ऐसा मौका नहीं आया कि, दिल्‍ली मेट्रो को बंद करने की नौबत आई हो, लेकिन कोरोना इफेक्‍ट के कारण यह निर्णय लिया गया है, क्‍योंकि हम स्‍वस्‍थ तो जग स्‍वस्‍थ।

CM कमलनाथ ने की इस्तीफा देने की घोषणा, कुछ देर में राज्यपाल से मिलेंगे..

मेट्रो सेवा परिचालन बंद का कदम क्‍यों उठाया गया इस पर DMRC की विज्ञप्ति का कहना है कि, ”इस कदम का उद्देश्य लोगों को घरों में ही रहने के लिए प्रोत्साहित करना है, क्योंकि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए सामाजिक दूरी जरूरी है। यह कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई का एक कदम है।”

कमलनाथ सरकार का शक्ति परीक्षण आज, 2 बजे..

इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि, “मौजूदा स्थिति को देखते हुए हम सभी मॉल (किराना, फार्मेसी और सब्जी की दुकानों को छोड़कर) को बंद कर रहे हैं।”


कोरोना वायरस मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने दिल्ली में सभी गैर-जरूरी सेवाओं को भी बंद कर दिया है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply