कोरोना के चलते बॉलीवुड में अफरा-तफरी मची हुई है। मुंबई सहित महाराष्ट्र के पांच बड़े शहरों नवी मुंबई, थाणे, पुणे, पिंपरी चिंचवाड़ के व मप्र के भी सिनेमाघर बंद कर दिए गए हैं। बिहार, दिल्ली, जम्मू, केरल में थिएटरबंदी पहले से है। अतुल मोहन (बॉलीवुड के आर्थिक मामलों के एक्सपर्ट के मुताबिक), इन हालात से साफ है कि बाकी राज्य भी अपने यहां सिनेमाघर बंद करेंगे और फिल्मोद्योग पर गहरा संकट आ जाएगा। अगर पूरे मार्च ऐसा चला तो ठीक 31 तारीख के बाद ऐसा नहीं होगा कि 2 अप्रैल से ही लोग सिनेमाघर आने लगेंगे। उनके दिल से कोरोना का डर दूर होते-होते एक महीना जाएगा। ऐसे में इस उद्याेग पर दूरगामी प्रभाव पड़ेंगे।

Advertisement

Indian Idol 11 के होस्ट Aditya Narayan का बड़ा ऐलान, छह महीने तक नहीं दिखेंगे टीवी पर ..

‘सूर्यवंशी’ और ‘83’ दोनों की रिलीज डेट अप्रैल तो छोड़िए मई जून तक जाती दिख रही है। वहां ईद रिलीजों का मामला सामने आ जाएगा तो टकराव तय है। लिहाजा, एक ऐसी सिचुएशन पैदा हो रही है, जहां सारे बड़े स्टार्स और बैनर्स को मिल बैठकर तय करना होगा कि रिलीज डेटों का क्या करना है? जिस तरह जेम्स बॉन्ड सीरिज की फिल्म सीधा नवंबर खिसक गई, ठीक वैसे ही हालात इंडियन फिल्मों के भी बनते नजर आ रहे हैं।

भोपाल में हुआ सिंधिया के काफिले पर हमला..

नुकसान के घेरे में सब… इस स्थिति से घाटा सभी को हो रहा है। स्टार्स, सुपरस्टार्स कोई नहीं बच रहा। 10 अप्रैल के बाद अमिताभ, जाह्नवी, की बड़ी फिल्मों का लाइन अप रिलीज को तैयार है। मई के पहले वीक में ‘कुली नंबर वन’ और आगे फिर अमिताभ बच्चन की ही ‘झुंड’ है। फिर आता है 22 मई का वक्त, जब ‘राधे’ और अक्षय कुमार की ही ‘लक्ष्मी बॉम्ब’ रिलीज का वक्त है। उसके बाद फिर पांच जून वाले स्लॉट पर जाह्नवी कपूर की ‘रूही अफजाना’ है। नतीजतन, क्या बड़ा संकट खड़ा होने वाला है, इसका जवाब किसी के पास नहीं है? नुकसान की बात करें तो तकरीबन 50 करोड़ का घाटा हर हफ्ते हिंदुस्तान के सिनेमाघरों को होने वाला है।

कोरोना का कहर: SC में बाहरी लोगों की एंट्री बंद, सिर्फ अर्जेंट केस की सुनवाई होगी..

‘अंग्रेजी मीडियम’ को नुकसान: ‘अंग्रेजी मीडियम’ को तीन से छह करोड़ का नुकसान अकेले दिल्ली शहर से हो रहा है। वहां के मशहूर सिनेचेन डिलाइट के जीएम आरके मेहरोत्रा ने बताया, ‘हमारे सारे एडवर्टिजमेंट और कंटेंट प्रोवाइडर का मोटा नुकसान हो रहा है। सिनेमा न देखने आने वालों का असर मॉल के फुटफॉल पर हो रहा है। गुरूवार से पहले तक अकेले डिलाइट में 80 फीसदी तक ऑक्युपेंसी थी। अंग्रेजी मीडियम पांच शो में रिलीज होनी थी। हमारी दो सिनेमाघरों की स्क्रीन के लिए 600 टिकटें एडवांस बुक हो चुके थे। इसे आप दिल्ली के 152 स्क्रीन के लिए कैलकुलेट करें तो अकेले दिल्ली शहर से अंग्रेजी मीडियम को तीन करोड़ तक का नुकसान है एक बार में।’ राजस्थान में शूट हुई ‘अंग्रेजी मीडियम’ की होम स्टेट में दोपहर तीन बजे तक महज 15 से 18 पर्सेंट की ऑक्युपेंसी थी। पूरे राजस्थान में 250 से ऊपर स्क्रीन हैं। ट्रेड पंडित राज बंसल कहते हैं, ‘सिनेमाघरों की बंदी टाली जा सकती थी। यहां से ज्यादा भीड़ तो लोकल ट्रेनों, बसों में होती है।’

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply