मध्य प्रदेश के सभी जिलों में रविवार सुबह सात बजे से कोरोना वायरस को रोकने के लिए जनता कर्फ्यू जारी है। सभी लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई अपील का पालन कर रहे हैं। रात 9 बजे तक सभी अपने घरों के अंदर ही रहेंगे, इस दौरान शाम 5 बजे सभी घरों की दरवाजे, गैलरी या आंगन में खड़े होकर कोरोना वायरस को हराने में जुटे जुटे डॉक्टरों, चिकित्साकर्मियों, पुलिस, मीडिया, एयरलाइन और परिवहन सेवाओं से जुड़े योद्धाओं के सम्मान में थाली और ताली बजाई गई।

Advertisement

कोरोना का कहर: 24 मार्च तक राजधानी भोपाल लॉकडाउन, प्रदेश की सीमाएं सील हुईं..


शाम पांच बजते ही लोगों ने अपने घरों के सामने तालियां, घंटी बजाई और शंखनाद कर उन लोगों का आभार जताया जो आवश्‍यक सेवाओं में लगे हैं।

Coronavirus: भारत में 315 हुई संक्रमित मरीजों की संख्या, जानें- किस राज्य में है कितने मामले

रेलवे ने 96 स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट बेचना बंद कर दिया है। मध्य प्रदेश के आठ जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए शनिवार को ही लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। इन सात जिलों में जबलपुर, नरसिंहपुर, बालाघाट, सिवनी, रीवा, छिंदवाड़ा और ग्वालियर, बैतूल शामिल है। जबलपुर संभाग के नरसिंहपुर में रविवार से 14 दिन के लिए लॉक डाउन रहेगा।
पिछला लेखकोरोना का कहर: 24 मार्च तक राजधानी भोपाल लॉकडाउन, प्रदेश की सीमाएं सील हुईं..
अगला लेखकोरोना का कहर: कोरोना को हल्के में न लें, पड़ सकता है भारी, जानिए कैसे..
तेजी से बदलती इस दुनिया में तमाम खबरें पाने का एक मंच..होगी हर खबर पर विचारोदय ऑनलाइन खबरी की नजर.. Email:- vicharodaya@gmail.com

Leave a Reply