मध्य प्रदेश में निकाय चुनाव नजदीक है लेकिन कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई थमने की बजाय बढ़ती जा रही है नाथूराम गोडसे के समर्थक और हिंदू महासभा के सदस्य रहे बाबूलाल चौरसिया को सदस्यता दिए जाने से कांग्रेस दो खेमे में बट गई है अब होशंगाबाद के जिला अध्यक्ष सत्येंद्र फौजदार ने पार्टी की राष्ट्रीय अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक को पत्र लिखकर मानक अग्रवाल को पार्टी से बाहर करने की मांग कर दी है

Advertisement

राजधानी में महिला की हत्या नेशनल हाइवे के पास मिली लाश

इससे पहले मानक अग्रवाल ने कहा था कि पीसीसी चीफ कमलनाथ को धोखे में रख बाबूलाल चौरसिया को कांग्रेस की सदस्यता दिलाई गई इस बारे में पार्टी को सोच विचार कर फैसला लेना चाहिए गांधी के हत्यारे की पूजा करने वालों की पार्टी में कोई जगह नहीं होनी चाहिए प्रदेश अध्यक्ष को साफ करना चाहिए कि उनकी विचारधारा गांधी की है या गोडसे की

राजधानी में महिला की हत्या नेशनल हाइवे के पास मिली लाश

जिसके बाद भाजपा पार्टी ने मौके को भुनाते हुए कांग्रेस पर आरोप लगाये है प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि नाथूराम गोडसे के समर्थक को पार्टी में शामिल करने के मुद्दे पर कांग्रेस अब दो हिस्सों में बट गई है इस मामले में अभी तक कमल नाथ कुछ भी बोलने को राजी नहीं हुए हैं जिसे साफ हो गया है कि कांग्रेस के लिए महात्मा गांधी जी का महत्व सिर्फ वोट और नोट के लिए ही बचा है

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply