चीन के साथ सटे लद्दाख के इस हिस्से के साथ भारतीय सेना के जवानों की इस एक्सरसाइज़ का सामयिक रूप से काफी महत्व है. ऐसा पहली बार हुआ है जब भारतीय सेना के जवानों ने इस हिस्से में किसी तरह की एक्सरसाइज़ को अंजाम दिया है

Advertisement

राजनाथ ने कहा- 2030 तक 10 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का लक्ष्य, इसमें रक्षा क्षेत्र का अहम रोल होगा

भारतीय सेना के जवानों ने मंगलवार यानी 17 सितंबर को ईस्टर्न लद्दाख इलाके में बड़ा सैन्य अभ्यास किया. इस अभ्यास में वायुसेना, भारतीय सेना की कई टुकड़ियों के जवान शामिल रहे. चीन के साथ सटे लद्दाख के इस हिस्से के साथ भारतीय सेना के जवानों की इस एक्सरसाइज़ का रणनीतिक रूप से काफी महत्व है.

ऐसा पहली बार हुआ है जब भारतीय सेना के जवानों ने इस हिस्से में किसी तरह का सैन्य अभ्यास किया है. नॉर्थन कमांड के लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह भी इस अभ्यास के गवाह बने. नॉर्थन कमांड की तरफ से इस अभ्यास की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी साझा की गई हैं.

मरीजों से भर गया CIMS, अब भर्ती नहीं कर रहे मरीज..

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से इसका वीडियो भी जारी किया गया है. सामने आए वीडियो में देखा जा सकता है कि किस तरह वायुसेना के जवान आसमान से छलांग लगा रहे हैं तो वहीं थल सेना के जवान टैंक के साथ अभ्यास कर रहे हैं.

#WATCH Ladakh: Integrated exercise of the Army, held in eastern Ladakh yesterday. The exercise was witnessed by Northern Army Commander. pic.twitter.com/L4NDVp1ETs— ANI (@ANI) September 18, 2019

आपको बता दें कि चीनी सेना लगातार इस हिस्से में घुसपैठ करने की कोशिश करती रही है, कई बार यहां दोनों सेना के जवान आमने-सामने भी हुए हैं. ऐसे में इस बीच भारतीय सेना के जवानों का अभ्यास चीन को भी सख्त संदेश देता है. इस अभ्यास के दौरान भारतीय सेना के जवानों ने आधुनिक तकनीक के हथियारों और सामग्री का उपयोग किया.

Pak में हिन्दू लड़की की मौत: इंसाफ की मुहिम में शामिल हुए शोएब, लिखा, नम्रता की मौत से दुखी हूं

अभी कुछ दिन पहले ही लद्दाख में भारतीय और चीनी सेना के जवान आमने-सामने आए थे. लद्दाख की पैंगॉन्ग झील के किनारे के पास भारत और चीन के जवानों के बीच नोकझोंक हुई. इसके बाद दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई. इस वार्ता के बाद हालात सामान्य हुए.

#LtGenRanbirSingh, #ArmyCdrNC visited Eastern Ladakh & witnessed Integrated Exercise of all Arms in Super High Altitude Area; complimented all ranks for outstanding display of war fighting capability under challenging conditions.@adgpi @SpokespersonMoD @PIB_India pic.twitter.com/HZEFAj1wkT— NorthernComd.IA (@NorthernComd_IA) September 17, 2019

गौरतलब है कि दोनों देश कई बार इस बात को स्वीकार कर चुके हैं कि अभी भी सीमा को लेकर विवाद जारी है. हालांकि, इस विवाद का दोनों देशों के रिश्तों पर असर नहीं होगा और साथ-साथ ही बातचीत आगे बढ़ती रहेगी. ना सिर्फ लद्दाख से सटे इलाके बल्कि उत्तराखंड के बाराहोती या फिर अरुणाचल प्रदेश के क्षेत्रों में भी चीनी सेना के जवान भारतीय जवानों से भिड़ते हुए नज़र आए हैं.

https://www.youtube.com/watch?v=PMPVSlEh_Oc

@vicharodaya

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply