शाहजहांनाबाद थाना
शाहजहांनाबाद थाना

नमाज पढ़कर निकले बच्चे को पूरे परिवार का सर्वनाश हो जाने का डर दिखा घर से जेवर मंगाए

Advertisement
शाहजहांनाबाद थाना
शाहजहांनाबाद थाना

भोपाल में जालसाज 15 साल के किशोर से 70 हजार के गहने ठग ले गए। घटना शाहजहांनाबाद इलाके की है। मस्जिद से नमाज पढ़कर निकले लड़के को दो लोगों ने उसके घर में भूत-प्रेत की बाधा बताकर गहने मंगाए। कहा कि पूजा करना होगी, नहीं तो मां-बाप समेत पूरे परिवार का सर्वनाश हो जाएगा। ठगों ने खुद को अजमेर शरीफ का बताया था।

भोपाल: ट्यूटर के भाई ने 7 साल की मासूम से किया रेप,बाकी बच्चों कि चॉकलेट देकर की थीं छुट्टी

शाहजहांनाबाद पुलिस के मुताबिक, आदर्श अस्पताल के पास रहने वाले रियाज खान कारपेंटर हैं। उनका 15 साल का बेटा रजा स्कूल में पढ़ता है। शनिवार शाम पानी की टंकी के पास मस्जिद पर नमाज पढ़ने गया था। नमाज पढ़ने के बाद वह बाहर आया। मस्जिद से थोड़ी दूर उसे दो लोग मिले। दोनों ने रजा को बताया कि वह अजमेर शरीफ से आए हैं।

इसी बीच दोनों ने रजा के माता-पिता का नाम लेकर बताया कि तुम्हारे घर में काफी परेशानी चल रही है। घर में प्रेत बाधा का दोष है। इसके लिए तुम्हें घर में रखे जेवर की पूजा-पाठ करानी होगी। डरा-सहमा रजा घर पहुंचकर चुपके से अलमारी का लॉक खोलकर उनके पास जेवर लेकर पहुंचा। जालसाज जेवर अपने पास रखकर तंत्र-मंत्र का ढोंग करने लगे। इसी बीच रजा को 10 रुपए दिए। बोले कि बोतल बंद पानी लेकर आओ। रजा पानी लेने दुकान चला गया। करीब 3 मिनट बाद वह पहुंचा तो दोनों भाग चुके थे।

शिवराज सरकार का बड़ा फैसला 12 स्टेट रोड पर लगेगा टोल टैक्स,इनको मिलेगी छूट

बेटे को मायूस देख पिता ने पूछा, तब खुला राज

देर शाम रजा डरा-सहमा घर पर पहुंचा। वह मायूस बैठा हुआ था। पिता ने जब उससे मायूसी की वजह पूछी तो वह डरते हुए जालसाजों की करतूत बताया। पिता तुरंत ही उसे लेकर थाने पहुंचे। पुलिस ने रियाज की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। घटनास्थल पर पुलिस को CCTV कैमरे के फुटेज मिले हैं। फुटेज से आरोपियों की पहचान करने में पुलिस जुटी हुई है। थाना प्रभारी जहीर खान ने बताया कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

किसी को बताएगा तो पापा-मम्मी मर जाएंगे

जालसाजों ने रजा को पानी भेजने से पहले डर दिखाया कि यदि तुमने किसी को हम लोगों के बारे में बताया तो तुम्हारे पापा-मम्मी मर जाएंगे। हम लोग अल्लाह के बंदे हैं। घर में कोई नहीं बचेगा। इस वजह से रजा ठगी होने के बाद भी चुप रहा। बाद में पिता के पूछने के बाद जालसाजों की करतूत बताई।

रजा की दिमागी स्थिति ठीक नहीं

पुलिस का कहना है कि रजा की दिमागी हालात ठीक नहीं हैं। उसका इलाज चल रहा है। जालसाजों ने बच्चे के इसी भोलेपन का फायदा उठाया। पुलिस को आशंका है कि जालसाज लोकल होंगे, तभी वह रजा के माता-पिता के बारे में जानते होंगे। उन्हें रजा के पिता के पेशे के बारे में भी जानकारी थी।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply