उज्जैन कलेक्टर और महाकाल मंदिर की प्रबंधक समिति ने शिवरात्रि के त्यौहार को नजदीक आते देख फैसला लिया है कि शिवरात्रि तक भस्म आरती के लिए किसी भी श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा मंदिर समिति के अध्यक्ष और जिला कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया की भस्म आरती के लिए श्रद्धालुओं को शिवरात्रि के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा

Advertisement

उज्जैन में घर से पैदल ड्यूटी पर जा रहे सिक्योरिटी गार्ड की चाकू घोंपकर हत्या, वारदात सीसीटीवी में कैद

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते भस्म आरती और गर्भगृह में प्रवेश को लेकर जो भी पाबंदियां लगाई गई थी उनमें भी परिवर्तन किया जाएगा साथ ही उन्होंने बताया कि शिवरात्रि के बाद गर्भगृह और भस्म आरती अपनी पूरी श्रद्धालुओं की क्षमता के साथ चालू होंगे

बाल ब्रह्मचारी होने के बाद भी हनुमान जी को क्यों करने पड़े 3 विवाह? पढ़ें पूरी कथा

इससे पहले श्रद्धालुओं का प्रवेश केवल 9:45 तक ही था जिसके कारण भक्त शयन आरती में शामिल नहीं हो पाते थे अब मंदिर समिति ने शादी में प्रवेश देने का फैसला लिया है यह मंगलवार से प्रभाव में लाया जाएगा

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply