CBI ने रिश्वत लेतें भारतीय खाद्य निगम भोपाल के दो कर्मचारियों को दबोचा
CBI ने रिश्वत लेतें भारतीय खाद्य निगम भोपाल के दो कर्मचारियों को दबोचा
Share this News

सीबीआइ CBI की चार सदस्यीय टीम ने बुधवार को भारतीय खाद्य निगम भोपाल के दो कर्मचारियों को 40 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

सीबीआइ CBI की चार सदस्यीय टीम ने बुधवार को भारतीय खाद्य निगम (एफसीआइ) भोपाल के दो कर्मचारियों को 40 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। दोनों तकनीकी सहायक के पद पर कार्यरत हैं। इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। इन्होंने वेयर हाउस संचालक से उसका गोदाम भरने और अधिक से अधिक समय तक वहां अनाज रखे जाने के एवज में रिश्वत ली थी। आरोपित कर्मचारी तकनीकी सहायक ग्रेड-एक अभिषेक पारे और तकनीकी सहायक ग्रेड-तीन गौरीशंकर मीणा हैं।

धार में हत्या के आरोपी का एनकाउंटर, हुआ घायल-दिनदहाड़े युवती को मारी थी गोली

सीबीआइ सूत्रों ने बताया कि आरोपितों ने इसके लिए कुल एक लाख पांच हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी। बातचीत के बाद शुरू में 50 हजार रुपये देने की रजामंदी हुई थी। दोनों कर्मचारियों ने यह धमकी भी दी थी की रिश्वत नहीं दी तो गोदाम में भरने के लिए अनाज नहीं दिया जाएगा, जिससे व्यापारी को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा।
इसके बाद वेयरहाउस मालिक ने 17 अप्रैल को 10 हजार रुपये की रिश्वत दी थी। व्यापारी ने इसकी शिकायत सीबीआइ भोपाल इकाई को की थी। बुधवार को सीबीआइ एएसपी अतुल हजेला के नेतृत्व में निरीक्षक सतीश बरवाल, अभिषेक सोनेकर, सुनील गुप्ता और उप निरीक्षक सुभाष तोमर ने इन कर्मचारियों की घेराबंदी ही।

फॉरेस्ट रेंजर छात्रा को प्यार में फंसा कर रहा था रेप,मामला दर्ज फिलहाल मध्यप्रदेश के बालाघाट में है पदस्थ

दोपहर में कर्मचारियों ने वेयरहाउस संचालक को होशंगाबाद रोड स्थिति शनि मंदिर के पास रिश्वत के लिए बुलाया। जैसे ही कर्मचारियों ने 40 हजार रुपये लिए तो सीबीआइ टीम ने उन्हें पकड़ लिया। आरोपितों के कार्यालय और घर की तलाशी भी ली जा रही है।
उधर, जबलपुर के इंडियन इंस्टीट्यूट आफ इनफार्मेशन टेक्नोलाजी डिजाइन एवं मैन्युफैक्चरिंग में बुधवार को सीबीआइ की आठ सदस्यीय टीम ने छापा मारा। तीन करोड़ रुपये के कंप्यूटर खरीदी घोटाले की शिकायत के बाद टीम ने यहां से दस्तावेज जब्त किए। यहां से हार्डडिस्क भी जब्त की गई है।