मध्य प्रदेश में अंधविश्वास के दो मामले सामने आए हैं। पहला मामला सतना जिले का है। यहां जादू-टोने के शक में एक महिला की हत्या कर दी गई, जबकि 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। दूसरा मामला गुना का है। यहां एक गांव में महिला को डायन बताकर पूरे परिवार का बहिष्कार कर दिया गया। परिवार को गांव छोड़ने की धमकी दी गई है। दोनों घटनाएं शनिवार रात की हैं।

Advertisement

जब घर वाले ही हो जाएं हैवान..,युवती को उसके ही पिता और भाईयों ने पेड़ से बांध किया अधमरा

पहला मामला- सतना में जादू-टोने के शक में दो परिवार भिड़े, एक की मौत

सतना जिले के ताला थाना क्षेत्र के मुकुंदपुर में शनिवार देर रात 2 परिवार के बीच खूनी संघर्ष में एक महिला की मौत हो गई। चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। विवाद की वजह जादू-टोना बताया जा रहा है। घटना के बाद मौके पर ताला थाना प्रभारी पीसी कोल और मुकुंदपुर चौकी प्रभारी अरुण त्रिपाठी घटनास्थल पर पहुंचे और घायलों को अमरपाटन अस्पताल में भर्ती करवाया।

पुलिस के मुताबिक, लड़ाई जादू-टोना के संदेह में हुई है। भूरा साकेत,अरुण साकेत, किशन साकेत, सपना साकेत ने अपने कुनबे की रामरती साकेत, कालका साकेत पर जादू-टोना का आरोप लगाया। इसके बाद दाेनों परिवार आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों की ओर से जमकर लाठी, डंडे और अन्य हथियारों से वार किए गए, जिसमें गंभीर रूप से घायल रामरती की मौके पर मौत हो गई।

BHEL के इस स्कूल ने कोरोना के दौरान 14% फीस बढ़ाई,मंत्री परमार ने दिए कार्रवाई के निर्देश; 6 जुलाई तक जवाब नहीं देने पर मान्यता रद्द होगी

इलाज के बाद पुलिस करेगी गिरफ्तार
घायलों में रामरती की हत्या के आरोपी शामिल हैं, इसलिए पुलिस उनके ठीक होने का इंतजार कर रही है। आरोपियों के ठीक होते ही पुलिस सभी को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी।

दूसरा मामला: गुना में महिला से बोले- देवताओं ने बताया है कि तुम डायन हो

गुना के राघोगढ़ क्षेत्र में महिला को डायन बताकर उसके परिवार का हुक्का-पानी बंद कर दिया गया। परिवार पर गांव छोड़कर जाने का दबाव बनाया जा रहा है। ​​​​​​​राघोगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कनकटा गांव निवासी फतेह सिंह बंजारा ने बताया कि वह पत्नी के साथ खेत पर था। इसी दौरान गांव का ही रूप सिंह बंजारा अपने साथी के साथ आया और गाली-गलौच करने लगा। उसने कहा कि तेरी पत्नी डायन है। उसके चक्कर में ही उसका बीमार भाई ठीक नहीं हो पा रहा है। गांव में आने वाले देवताओं ने उसे बताया है कि भाई की बीमारी का कारण तुम्हारी पत्नी है।

इतना कहते हुए रूप सिंह और उसका साथी फतेह सिंह बंजारी की पत्नी को मारने के लिए दौड़े। मौके पर मौजूद लोगों ने बीच-बचाव किया। जाते-जाते दोनों ने फतेह सिंह को गांव छोड़कर जाने की धमकी दे गए। महिला को डायन बताने की अफवाह फैलने के बाद इस परिवार का हुक्का-पानी बंद कर दिया गया है। शिकायत पर धरनावदा थाने में मामला दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी गजेंद्र सिंह बुंदेला ने बताया कि यह आपसी झगड़े का मामला है। हुक्का-पानी बंद करने की कोई बात सामने नहीं आई है।

 भोपाल में 18 जुलाई से 8 दिन के टोटल लॉकडाउन कलेक्टर का आदेश,सोशल मीडिया पर वायरल पुलिस ने क्या कहा जाने.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply