राजधानी सहित प्रदेशभर में उपभोक्ताओं को बिजली का झटका लग गया है। इसका अहसास अगले माह आने वाले बिजली बिल में होगा। सरकार में लंबे समय से बिजली बिल की दरों में बढ़ोतरी की कवायद चल रही थी। जिसे अब जाकर अमलीजामा पहनाया गया है। दरअसल, 17 अगस्त से बिजली की नई दरें लागू हो गई हैं। सिंतबर में उपभोक्ताओं को आधे महीने का बिल नई दरों के मुताबिक मिलेगा। इस बार औसतन 7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इसमें घरेलू बिजली टैरिफ में 5.1 से 4.9 फीसदी तक का इजाफा किया गया है। खास बात यह है कि नई दरें 17 अगस्त से लागू हो रही हैं। बिजली कंपनियां आमतौर पर मीटर रीडिंग महीने के अंत में या फिर अगले महीने की शुरुआत में करवाती हैं। ऐसी स्थिति में जहां मीटर रीडिंग अगस्त के अंत में या सितंबर के शुरुआती दिनों में होगी, वहां की बिलिंग को लेकर असमंजस की स्थिति है।

madhya-pradesh-electricity-regulatory-commission-arera-colony-bhopal-electricity-supply-2a7le9y
स्लैब में बदलाव से फायदा
आयोग ने वर्तमान टैरिफ स्लैब में बदलाव किया है। इसका फायदा अगले महीने से उपभोक्ताओं को मिलेगा। अब 51 से 100 यूनिट के टैरिफ को 51 से 150 यूनिट कर दिया है। पहले यह टैरिफ 51 से 100 यूनिट था। इसके बाद 101 से 300 यूनिट के लिए अलग टैरिफ था।

यह भी पढे़ :

राजनाथ की चेतावनी, पाक से अब होगी सिर्फ पीओके पर बातचीत

इससे 100 यूनिट से ज्यादा बिजली खपत होने पर बिल बढ़ जाता था। अब 150 यूनिट की खपत तक बिजली बिल में बढ़ोतरी नहीं होगी।
350 यूनिट का बिल 2875


नई टैरिफ के हिसाब से जो उपभोक्ता 350 यूनिट बिजली की खपत करते हैं, उनका बिल 2875 रुपए आएगा। पिछली टैरिफ के मुकाबले यह करीब डेढ़ सौ रुपए अधिक होगा। वजह एनर्जी चार्ज और फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी होना है।
@vicharodaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here