छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए हमले के बाद लापता जवान को नक्सलियों के कब्जे में बताया जा रहा है। बुधवार दोपहर नक्सलियों ने लापता जवान की सोशल मीडिया पर तस्वीर जारी की है। जवान को वापस लाने के लिए सुरक्षाबल उचित कार्रवाई कर रहा है। सीआरपीएफ के सूत्रों ने इसकी जानकारी दी। दावा किया जा रहा है कि नक्सलियों ने जवान को रिहा करने के लिए कुछ शर्तें भी रखी हैं। नक्सलियों की पहली शर्त यह है कि सरकार एक मध्यस्थ नियुक्त करे। उनका कहना है कि जब तक मध्यस्थों के नाम का एलान नहीं होगा, तब तक जवान को रिहा नहीं किया जाएगा।

Advertisement

दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश, पब्लिक प्लेस है कार, अकेले हों तब भी मास्क पहनना जरूरी

लापता जवान की फोटो जारी होने से पहले, बीजापुर के एक पत्रकार ने दावा किया कि उसके पास नक्सलियों ने दो बार फोन किया। नक्सलियों का कहना है कि जवान घायल है। उसे दो दिन में रिहा कर दिया जाएगा। बता दें कि बीजापुर में मुठभेड़ के बाद लापता कोबरा कमांडो की तलाश जारी है। पुलिस इस मामले में स्थानीय ग्रामीणों से पूछताछ कर रही है। वहीं, सभी चैनल के माध्यम से जवान का पता लगाने की कोशिश में जुटी हुई है। इस बीच नक्सलियों ने पत्र जारी करके सरकार से बातचीत के लिए रजामंदी जाहिर की है।

BJP नेत्री के बेटे ने नशे में अंधाधुंध दौड़ाई कार,कई गाड़ियों को मारी टक्कर

पत्रकार के पास आया यह फोन
बीजापुर के एक पत्रकार ने बताया कि उसके पास दो बार नक्सलियों का फोन आया। उन्होंने कहा कि एक जवान को उन्होंने पकड़ रखा है। उस जवान को गोली लगी है। वह घायल है। उसका इलाज किया जा रहा है और दो दिन में उसे रिहा कर दिया जाएगा। नक्सलियों ने जवान के फोटो और वीडियो भी जल्द जारी करने की बात कही।

इंदौर: मास्क ना पहने व्यक्ति को पुलिस ने सड़क पर गिराकर पीटा, बच्चा छोड़ने की मिन्नतें करता रहा; देखें वीडियो

 

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply