बिहार.

Advertisement
बिहार के बेगूसराय में रविवार को अलग-अलग घटनाओं में डूबने से 8 लोगों की मौत हो गई. पहली घटना गढ़पुरा थाना क्षेत्र के हरखपूरा सहरा चौर की है, जहां पर घोंघा चुनने के लिए गए एक ही गांव के 4 लोगों की पानी में डूबकर मौत हो गई. वहीं, एक व्यक्ति की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है. डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने इसकी पुष्टि की है.

बताया जा रहा है कि हरखपूरा निवासी सोनी कुमारी, सुलेखा कुमारी, सुमित कुमार, खुशबू कुमारी और लालमणि देवी घोंघा चुनने के लिए हरखपूरा चौर गए थे. इस बीच सोनी कुमारी गहरे पानी में डूबने लगी, जिसे बचाने के लिए एक-एक कर सभी लोग गहरे पानी में उतरते चले गए.

अयोध्या मामला: मंदिर विवादित जमीन पर और मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन दी जाएगी..

इस हादसे में सोनी कुमारी, सुलेखा कुमारी ,सुमित कुमार और खुशबू कुमारी की पानी में डूबने से मौत हो गई. वहीं लालमणि देवी को किसी तरह स्थानीय लोगों ने पानी से बाहर निकाला, जिसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. वहीं दूसरी घटना भगवानपुर थाना क्षेत्र के मानोपुर की है, जहां लकी कुमार, गुड़िया खातून और रेहाना खातून की नहाने के दौरान बलान नदी में डूबने से मौत हो गई.

अयोध्या मामला: सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज किया, जानिए क्यों..

बताया जा रहा है कि ये सभी लोग बलान नदी में नहाने के लिए गए थे. इस दौरान ये सभी गहरे पानी में चले गए और डूब गए. इसमें सभी तीनों लोगों की मौत हो गई. वहीं तीसरी घटना भगवानपुर थाना क्षेत्र के दामोदरपुर गांव की है, जहां ससुराल आए युवक संतोष मलिक की नदी में डूबने से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि संतोष मलिक समस्तीपुर के रहने वाले थे और दामोदरपुर अपने ससुराल आए हुए थे.

अयोध्या मामला: फैसला कुछ भी हो, सोशल मीडिया का कहना, देश एक रहेगा..

रविवार को जब संतोष मलिक नहाने के लिए बलान नदी में गए, तो उनका पैर फिसल गया और वो गहरे पानी में चले गए. उनको बचाने की लोगों ने कोशिश की, लेकिन विफल रहे. प्रशासन ने सात शवों को बरामद कर लिया गया है और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. अभी एक व्यक्ति की तलाश जारी है. इस घटना के बाद से मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है.

अयोध्या मामला: मंदिर विवादित जमीन पर और मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन दी जाएगी..

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply