प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए भोपाल और इंदौर में कल यानी 17 मार्च से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा। यह निर्णय मंगलवार को CM शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की समीक्षा बैठक में लिया। उन्होंने कहा, महाराष्ट्र से आने वालों की थर्मल स्क्रीनिंग जारी रहेगी, वे एक हफ्ते आइसोलेशन में भी रहेंगे।

Advertisement

इसके अलावा प्रदेश के 8 शहरों जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल और खरगाेन में रात 10 बजे के बाद बाजार बंद रहेंगे। इन शहरों में कर्फ्यू जैसी स्थिति नहीं रहेगी, लेकिन बाजार अनिवार्य रूप से बंद रहेेंगे। ये आदेश भी 17 मार्च से लागू होंगे। अगर इन 8 शहरों में इसके बाद भी 3 दिन तक लगातार केस बढ़ते हैं तो यहां भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया जाएगा।

जब रणवीर सिंह को टीचर ने स्कूल से कर दिया था सस्पेंड, वजह बने थे शाहरुख खान

नाइट कर्फ्यू की टाइमिंग का निर्णय कलेक्टर लेंगे
भोपाल और इंदौर में रात को कब से कब तक कर्फ्यू लगेगा, इसका निर्णय कलेक्टर करेंगे। दोनों जगह के कलेक्टर अलग से नाइट कर्फ्यू लिए आदेश जारी करेंगे।

जोमैटो डिलीवरी ब्वॉय मारपीट मामले में ट्विस्ट अपने ही जाल में फंसी मॉडल हितेषा

सीएम ने सुबह ही दे दिए थे संकेत
शिवराज ने सुबह कहा था देश के साथ ही प्रदेश में कोरोना के केस जिस तेजी से बढ़ रहे हैं। वो सावधानी और सचेत होने का विषय है। उन्होंने कहा था कि इस संबंध में होने वाली बैठक में कुछ फैसले संभावित हैं, ताकि लोगों को कोरोना से बचाया जा सके। आम लोगों से निवेदन करता हूं। प्रार्थना करता हूं। निश्चिंत न हों। मास्क लगाएं। सावधानियां रखें। बाकी उपाय भी किए जाएंगे।

दूध में मिलावट की घर बैठे कर सकते हैं पहचान, मिनटों में पता चल जाएगा दूध असली है या नकली दूध

बीते एक सप्ताह के रिकॉर्ड को आधार बनाया जाएगा
सरकार कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर बीते एक सप्ताह के आंकड़ों पर नजर रख रही थी। आज यानी मंगलवार को हुई बैठक में मुख्यमंत्री सभी जिलों के केस की समीक्षा की। इसमें मुख्य रूप से वहां केस बढ़ने के कारणों पर चर्चा की गई।

फांसी से पहले 11 लाख जुर्माना दिल्ली की साकेत कोर्ट का फैसला,बाटला हाउस एनकांटर का दोषी है आरिज खान

इसमें वहां होने वाले कार्यक्रम, बाहर से आने वाले व्यक्तियों की संख्या और अन्य कारणों का आकलन किया गया। भोपाल में सोमवार से धारा 144 लगा दी गई है। इसके बाद कार्यक्रम और खेलकूद गतिविधियों पर भी कुछ पाबंदी लगा दी गई हैं। महाराष्ट्र से आने वालों को निगेटिव रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply