लोकसभा चुनाव से पहले भोपाल के 14 हजार कर्मचारी देंगे परीक्षा,पहले होगी ट्रेनिंग

लोकसभा चुनाव से पहले भोपाल के 14 हजार कर्मचारी देंगे परीक्षा,पहले होगी ट्रेनिंग
लोकसभा चुनाव से पहले भोपाल के 14 हजार कर्मचारी देंगे परीक्षा,पहले होगी ट्रेनिंग
Share this News

भोपाल के 14 हजार कर्मचारी देंगे लोकसभा चुनाव से पहले परीक्षा,पहले होगी ट्रेनिंग

भोपाल के कुल 14 हजार 761 कर्मचारियों को 1 से 5 अप्रैल तक लोकसभा चुनाव की ट्रेनिंग दी जाएगी। 8 सेंटरों पर वे EVM, मॉक पोल, वोटिंग, मतदान सामग्री लेने से लेकर जमा कराने तक की ABCD सीखेंगे। ट्रेनिंग में उन्होंने क्या सीखा? इसकी वे एग्जॉम भी देंगे। परीक्षा में फेल होने वाले कर्मचारी को फिर से ट्रेनिंग दी जाएगी।

इस बार लोकसभा चुनाव की ट्रेनिंग 5 दिन एक ही सत्र में सुबह 11 से शाम 4 बजे तक चलेगी। पिछले चुनावों में दो-दो सत्र में कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जाती थी, लेकिन संख्या अधिक होने की वजह से एक दिन में एक ही सत्र होगा। प्रतिदिन एवरेज 3 हजार कर्मचारियों को चुनाव से जुड़ी हर जानकारी दी जाएगी। कुल 72 मास्टर ट्रेनर्स उन्हें ट्रेनिंग देंगे। इनमें ईवीएम मास्टर ट्रेनर्स भी शामिल हैं।

10% रिजर्व के तौर पर रहेंगे कर्मचारी
लोकसभा चुनाव में कुल 2299 मतदान केंद्र एवं 64 सहायक मतदान केंद्र है। इस तरह आठों विधानसभाओं में 2363 मतदान केंद्र रहेंगे। प्रत्येक केंद्र पर चार अधिकारी-कर्मचारी (पीओ, पी-1, पी-2 और पी-3) की ड्यूटी लगेगी। इनके अलावा 10% कर्मचारी रिजर्व के तौर पर रहेंगे। ताकि, जरूरत पड़ने पर उनकी ड्यूटी लगाई जा सके।

जबलपुर में 8 साल की बच्ची से रेप गुसाईं भीड़ ने लगाई शराब के ठेके में आग

सीहोर विधानसभा की ट्रेनिंग वहीं पर होगी
भोपाल लोकसभा में कुल 8 विधानसभा- बैरसिया, नरेला, गोविंदपुरा, हुजूर, भोपाल उत्तर, भोपाल मध्य, भोपाल दक्षिण-पश्चिम और सीहोर शामिल हैं। भोपाल जिले की 7 विधानसभा के कर्मचारियों को यही पर ट्रेनिंग मिलेगी, जबकि सीहोर विधानसभा के कर्मचारियों को सीहोर में ही ट्रेनिंग दी जाएगी।

मतदान के दौरान

  • मतों की गोपनीयता पर अभ्यर्थियों एवं मतदान अभिकर्ताओं की ब्रीफिंग करना।
  • मतदान की घोषणा स्पष्ट रूप से करना और अभ्यर्थी/मतदान अभिकर्ता के हस्ताक्षर प्राप्त करना।
  • फार्म 17ए में प्रमाण पत्र दर्ज करना।
  • समय-समय पर फार्म-17 ए दर्ज संख्या को टोटल के साथ मिलान करना और मतदान की स्थिति से रिटर्निंग अधिकारी को अवगत कराना।

MP के लिए बीजेपी के स्टार प्रचारकों की सूची जारी..

मतदान से पहले

  • ईवीएम और वीवीपीएटी से मॉक पोल कैसे कराते हैं।
  • कंट्रोल यूनिट पर प्रदर्शित परिणाम को वीवीपीएटी के मॉक पोल पर्चियों से मिलान करें।
  • मॉकपोल के परिणाम को सीयू से क्लियर करना और वीवीपीएटी ड्राप बॉक्स से मॉल पोल को पर्चियों से हटाना।
  • वीवीपीएटी मॉक पोल पेपर पर्चियों के पुष्ठ भाग पर स्टॉम्प लगाकर काले लिफाफे को गुलाबी पेपर मुद्रा से मुहरबंद करना।

मतदान की समाप्ति के समय

  • मतदान समाप्ति के समय पंक्ति में खड़े व्यक्तियों को नंबर अंकित पर्चियां प्रदान करना।
  • पंक्ति में खड़े मतदाताओं द्वारा मत देने के बाद क्लोज बटन दबाना है।
  • वीवीपीएटी पॉवर पैक (बैटरी) को कैसे हटाना है।
  • ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों को उचित बॉक्स में रखकर मुहरबंद करना है।
  • सांविधिक एवं असंविधिक दस्तावेजों की भी मुहरबंदी करना है।
  • फार्म 17सी के भाग-1 में सभी मतदान अभिकर्ताओं के हस्ताक्षर लेना और सभी को इसकी प्रमाणित प्रति प्रदान करना है।
  • सभी निर्वाचन सामग्रियों को संग्रहण केंद्र पर जमा करने सुरक्षा काफिले के साथ कैसे जाना है, आदि।

हमें व्हाट्सएप पर फॉलो करें