मॉल में प्रवेश करने वाले लोगों को एक कड़ा नियम बनाया है। यहां पर मॉल में प्रवेश से पहले सभी लोगों को अपनी कोविड-19 नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी।

Advertisement

COVID-19 नेगेटिव रिपोर्ट नहीं ले जाने वाले लोगों को मॉल में रैपिड एंटीजन टेस्ट से गुजरना होगा। रिपोर्ट के अनुसार, सभी मॉलों को कोरोना वायरस परीक्षण के लिए नमूने लेने के लिए एक स्वाब संग्रह सुविधा स्थापित करनी होगी।

यह आदेश प्रदेश में तब आता है, जब देश में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या लगभग आधी से अधिक महाराष्ट्र से है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र में 30,535 ताजा कोविड-19 मामले, 11,314 लोग ठीक और 99 की मौत हुईं। इसके साथ, कुल मामले 22,14,867 और 2,10,120 सक्रिय मामलों सहित 24,79,682 ठीक होने वालों की संख्‍या है। हालांकि, मरने वालों की संख्या 53,399 हो गई है।

राज्य में मृत्यु दर अब राज्य में 2.15 प्रतिशत है। महाराष्ट्र के कई हिस्से पूरी तरह से या आंशिक लॉकडाउन में हैं।

मुंबई में बढ़े कोरोना वायरस के मामले
मुंबई की बस्तियों और चॉलों में 34 कंस्ट्रक्शन जोन हैं। कोरोना वायरस के मरीज वहां पाए जाने के बाद लगभग 270 इमारतों को सील कर दिया गया है। गुरुवार को, मुंबई के मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा था कि वह शहर में एक रात कर्फ्यू लगाने और भीड़ भरे बाजारों को नई जगहों पर शिफ्ट करने पर विचार कर रही है।

पेडनेकर ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, “मुझे लगता है कि रात में कर्फ्यू लगाना जरूरी है। हम भीड़ भरे बाजारों को नई साइटों पर शिफ्ट करने पर भी विचार कर रहे हैं।”

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply