अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप पर बरसे ओबामा,तोड़ी बरसों पुरानी परंपरा

    Share this News

    अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कोविड-19 की महामारी से निपटने के ट्रंप प्रशासन के तौर तरीक़ों की कड़ी आलोचना की है.

    ओबामा ने कहा कि ट्रंप प्रशासन के कई अधिकारी तो ढोंग करने के बहाने भी ज़िम्मेदारी उठाते हुए नहीं दिखे. ओबामा ने छात्रों से कहा, “इस महामारी ने एक बात तो साफ़ कर दी है कि ज़िम्मेदार पदों पर बैठे बहुत से लोग ये जान गए हैं कि वे क्या कर रहे हैं. उनमें बहुत से लोग तो अब ये दिखावा भी नहीं कर रहे हैं कि वे किसी चीज़ के लिए ज़िम्मेदार हैं.”

    पूर्व राष्ट्रपति कॉलेज और विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले ब्लैक स्टूडेंट्स के दीक्षांत समारोह को ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे. ओबामा ने ये भी कहा कि गोरे लोगों की तुलना में काले समुदाय पर कोरोना वायरस का जिस बड़े पैमाने पर असर हो रहा है, उसने अमरीकी व्यवस्था की कमियों को उजागर कर दिया है. कोविड-19 की महामारी के दौरान ओबामा को सार्वजनिक तौर पर संबोधित करते हुए कम ही देखा गया है.

    शनिवार को पूर्व राष्ट्रपति ओबामा ने बताया कि कोरोना संकट ने किस तरह से अमरीकी स्वास्थ्य व्यवस्था में नस्लीय ग़ैर-बराबरी को सामने लाकर रख दिया है.अमरीकी स्वास्थ्य व्यवस्था में नस्लीय ग़ैर-बराबरी पर ओबामा ने कहा, “इस तरह की बीमारी पहले से मौजूद असमानता को उजागर कर देती है. इस देश में काले लोगों को ऐतिहासिक रूप से जिन हालात का सामना करना पड़ता है, उसका बोझ अलग से है.”

    कोविड-19 की महामारी का हमारे समुदाय पर ज़्यादा असर पड़ रहा है, हम इसे इसी तरह से देखते हैं. ठीक इसी तरह से हम देखते हैं कि एक काला आदमी सुबह जॉगिंग पर जाता है और कुछ लोग सोचते हैं कि वे उसे रोक सकते हैं, सवाल पूछ सकते हैं और जवाब न मिलने की सूरत में उसे गोली मार सकते हैं.” https://youtu.be/xgGaufQVSeo

    ओबामा ने अहमद आर्बरी की हत्या पर बिना उनका नाम लिए नाराज़गी जताई. 23 फ़रवरी को जॉर्जिया में जॉगिंग के दौरान इस 25 वर्षीय नौजवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी https://www.instagram.com/p/CAUkt8YJ-3J/?igshid=1tzsjtgw8ikp6