फिलहाल नहीं हटेगी 750 झुग्गियां भोपाल-रामगंज मंडी प्रोजेक्ट होगा लेट

फिलहाल नहीं हटेगी 750 झुग्गियां भोपाल-रामगंज मंडी प्रोजेक्ट होगा लेट

Share this News

भोपाल-रामगंज मंडी प्रोजेक्ट के लिए रेलवे के नोटिस देने के बाद प्रशासन ने विस्थापन पर लगाई रोक,नरेला विधानसभा क्षेत्र में काबिज हैं सभी झुग्गियां 

रेलवे के लिए भोपाल-रामगंज मंडी प्रोजेक्ट के लिए निशात पूरा क्षेत्र से सैकड़ो झुग्गियों को हटाया जाना है। यह झुग्गियां तीसरी रेल लाइन के रास्ते में आ रही है। कुछ दिन पहले नवाब कॉलोनी और आरिफ नगर से करीब ढाई सौ झुग्गियों को हटाया गया था। इसी तर्ज पर एक बार फिर शंकर नगर से 750  झुग्गियों को हटाने का नोटिस रेलवे ने कुछ दिन पहले जारी किया था। जिस पर बुधवार को अमल किया जाना था लेकिन जिला प्रशासन ने अंतिम समय पर रोक लगा दी। इस रोक से एक तरफ जहां झुग्गी बस्ती वाले खुश हैं,वहीं दूसरी और प्रोजेक्ट के अटकने की संभावनाएं बढ़ गई हैं। 750 झुग्गियां नरेला और उत्तर विधानसभा क्षेत्र में आती है।

यूनियन कार्बाइड फैक्टरी के कारण भोपाल की 15 कॉलोनियों का पानी हुआ जहरीला,हाईकोर्ट में सुनवाई

बिना कार्यवाही लौटा अमला

रेलवे की जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिए रेलवे ने 12 अगस्त को सभी झुग्गी वासियों को नोटिस जारी किया था। इसमें खुद से अपना सामान हटाने की हिदायत दी थी। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई संबंधी सूचना रेलवे जिला प्रशासन नगर निगम भोपाल को भी दी थी। लेकिन बुधवार को जब आरपीएफ और जीआरपीए का बल मौकें पर पहुंचा तो,अंतिम समय पर जिला प्रशासन की ओर से रोक के आदेश आ गए।

चुनाव से जोड़ी जा रही कार्रवाई

रेलवे जिन 750 झुग्गी वासियों को हटा रहा है उनमें से ज्यादा नरेला विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं और बाकी बचे लोग उत्तर विधानसभा के निवासी हैं कुछ ही महीनों में मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव है यदि ऐसे में 750 परिवारों को कहीं और शिफ्ट किया जाता है,तो इस दोनों विधानसभा के उम्मीदवारों को फर्क पड़ेगा।

भोपाल के स्पा सेंटर पर छापा,5 पांच युवतियों समेत दो पुरुष गिरफ्तार

अतिक्रमणकारियों को जारी किए गए थे नोटिस

इस मामले पर भोपाल रेल मंडल के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि रेलवे के तरफ से सभी झुग्गी वासी जिन्होंने अतिक्रमण फैलाया है। उन्हें अपना सामान हटाने की हिदायत दी गई थी।जिसके लिए नोटिस भी जारी किए गए थे लेकिन इस पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई इस बारे में जिला प्रशासन ही जवाब दे पाएगा।

Download our App Now

Advertisement
Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..