सेना का चीता हेलीकॉप्टर क्रैश,एक पायलट की मौत

सेना का चीता हेलीकॉप्टर क्रैश,एक पायलट की मौत

Share this News

पांचवी इन्फेंट्री डिवीजन के जर्नल ऑफिसर कमांडिंग को छोड़कर यह चीता हेलीकॉप्टर सुरबा सांबा इलाके से आ रहा था। शुरुआती स्तर पर घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है

अरुणाचल प्रदेश के तवांग इलाके के पास सेना का एक चीता हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया। हादसे में एक पायलट की मौत हो गई है। पीटीआई ने भारतीय सेना के अधिकारी के हवाले से यह जानकारी है कि यह घटना बुधवार सुबह करीब 10 बजे एक नियमित उड़ान के दौरान हुई। दोनों पायलटों को नजदीकी सैन्य अस्पताल ले जाया गया।

हालांकि,लेफ्टिनेंट कर्नल सौरव यादव के रूप में पहचाने गए पायलट ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया तो वही दूसरे पायलट का इलाज अभी भी अस्पताल में चल रहा है। मिली जानकारी के अनुसार सेना का चीता हेलीकॉप्टर जेमीथांग सर्कल बीटी के पास न्यामजंग चु में दुर्घटनाग्रस्त हुआ है।

मध्यप्रदेश में अफसर की मनमानी: 13 साल बाद महिला को अपात्र बता नौकरी से निकाला,कई मंत्रियों के पत्रों को किया इग्नोर,अब दर-दर भटक रही महिला

पांचवी इन्फेंट्री डिवीजन के जर्नल ऑफिसर कमांडिंग को छोड़कर यह चीता हेलीकॉप्टर सुरबा सांबा इलाके से आ रहा था। शुरुआती स्तर पर घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है फिलहाल विवरण का पता लगाया जा रहा है।

बता दें कि मार्च में उत्तरी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में चीता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था दुर्घटना में सेना के एक पायलट की मौत हो गई थी। उसका सह-पायलट गंभीर रूप से घायल हो गया था।

पीटीआई ने भारतीय सेना के अधिकारी के हवाले से यह जानकारी है कि यह घटना बुधवार सुबह करीब 10 बजे एक नियमित उड़ान के दौरान हुई। दोनों पायलटों को नजदीकी सैन्य अस्पताल ले जाया गया।

पांचवी इन्फेंट्री डिवीजन के जर्नल ऑफिसर कमांडिंग को छोड़कर यह चीता हेलीकॉप्टर सुरबा सांबा इलाके से आ रहा था। शुरुआती स्तर पर घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है

विचारोदय न्यूज़ को डाउनलोड करें 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bhopal: आशा कार्यकर्ता से 7000 की रिश्वत लेते हुए बीसीएम गिरफ्तार Vaidik Watch: उज्जैन में लगेगी भारत की पहली वैदिक घड़ी, यहां होगी स्थापित मशहूर रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का आज वास्तव में निधन हो गया है। आज 91 वर्षीय अमीन सयानी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। इस बात की पुष्टि अनेक पुत्र राजिल सयानी ने की है। अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। इंदौर में युवाओं ने कलेक्टर कार्यालय को घेरा..