इंदौर में झंडा फहराने के दौरान देश विरोधी नारे लगे, दो पक्षों की भिड़ंत के बाद भगदड़

    इंदौर में बवाल - फोटो : सोशल मीडिया
    Share this News

    नायता मुंडला में कावेरी बिल्डिंग में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने के बाद भारत माता के नारे लगाने पर विवाद हुआ। यहां कुछ लोगों ने भारत विरोधी नारे लगाना शुरू कर दिए। मामले ने तूल पकड़ा, तो पत्थरबाजी शुरू हो गई।

    मध्य प्रदेश के इंदौर में रविवार को झंडा फहराने के दौरान विवाद के हालात बन गए। मामला के तेजाजी नगर इलाके की है। इसमें दो लोग घायल बताए जा रहे हैं। विवाद में दुकानों और गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की गई। सूचना के बाद एसपी, एएसपी और टीआई मौके पर पहुंचे।

    भोपाल पुलिस को झाड़ियों में मिला नवजात का शव,आसपास के 10 अस्पतालों में प्रसूता को तलाश रहे पुलिस

    दरसअसल, नायता मुंडला में कावेरी बिल्डिंग में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने के बाद भारत माता के नारे लगाने पर विवाद हुआ। यहां कुछ लोगों ने भारत विरोधी नारे लगाना शुरू कर दिए। मामले ने तूल पकड़ा, तो पत्थरबाजी शुरू हो गई। इसके बाद यहां भगदड़ मच गई। उत्पातियों ने बाहर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की। सूचना पर एक संगठन के कार्यकर्ता भी यहां पहुंचे। उन्होंने जमकर नारेबाजी की गई।

    कांग्रेस को बड़ा झटका,महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा
    पुलिस ने संभाला मोर्चा
    सूचना पर एसपी आशुतोष बागरी समेत अन्य थानों का बल मौके पर पहुंचा। घायलों को भी अस्पताल पहुंचाया गया। एसपी के मुताबिक, स्थिति काबू में है। एहतियात के तौर पर यहां पुलिस बल तैनात किया गया है। देश विरोधी नारे लगाने वाले और उत्पात करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ बलवा, पत्थरबाजी और मारपीट की धाराओं में केस दर्ज किया है।

    दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज
    एसपी ने बताया कि घटना के बाद दोनों पक्षों के 15-15 से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। कुछ लोग नामजद हैं। घटना के बाद कई हिंदूवादी संगठन थाने पर पहुंच गए थे। इसके बाद सद्दाम, सोहेल, शादाब, इमरान, रफीक, रजा भाइयों समेत 8 नामजद आरोपी हैं। 3 लोगों को हिरासत में लिया है।