भारत में कोरोना की विकराल स्थिति के बीच अमेरिका वैक्‍सीन के लिए कच्‍चा माल देने के लिए राजी हो गया है। अमेरिका ने भारत में बन रही वैक्‍सीन के लिए कच्‍चे माल की आपूर्ति पर उस वक्‍त रोक लगा दी, जब देश में कोरोना महामारी विकराल रूप धारण कर रही हैं दिनों दिन महामारी बढ़ती ही जा रही हैं, ऐसे में अमेरिकी प्रशासन के इस कदम से वैक्‍सीन बनाने वाली भारतीय कपंनियों और भारत सरकार की चिंताएं बढ़ा दी थी। अमेरिका के इस फैसले से भारत सरकार और वैक्‍सीन कंपनियों ने थोड़ी सी राहत की सास ली ।

भोपाल से बाहर जाने वाले सभी रास्ते किए बंद, लोग परेशान

विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा कि महामारी द्वारा पैदा हुई विकराल स्थिति में अमेरिका पूरी तरह से भारत के साथ खड़ा हैं और मिलकर भारत को इस महामारी के प्रभाव को नियंत्रित करने का प्रयास करेंगे । उन्‍होंने कहा कि हम भारतीय सरकार के साथ मिल कर कार्य कर रहे हैं और भारत के हेल्थ वर्कर को भी सारी अतिरिक्त सहायता प्रदान करेंगे। उन्‍होंने भारत को हरसंभव मदद का आश्‍वासन दिया।विदेश मंत्री ब्लिंकन ने ट्विटर के जरिये यह जानकारी देते हुए लिखा है कि कोविड-19 के भयानक प्रकोप की स्थिति में हम भारत की जनता के साथ हैं। हम भारत सरकार में अपने साझेदारों के संपर्क में हैं। हम जल्द ही भारत की जनता और कोविड से लड़ने वाले लोगों के समर्थन में अतिरिक्त मदद भी भेजेंगे।

क्या बंद होगी रेल सेवा? कोरोना की दूसरी लहर में रेल बोर्ड चेयरमैन ने दिया बड़ा बयान

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवान ने भी कहा है, कि कोरोना महामारी को लेकर हमारी गंभीर चिंता है। हम रात-दिन अपने भारतीय मित्रों को ज्यादा मदद और आपूर्ति देने पर काम कर रहे हैं। हम भारत की इस लड़ाई में साझेदार हैं। हम बहुत जल्द ज्यादा आपूर्ति करेंगे

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply