बालटाल और चंदनवाड़ी के रास्ते से होकर अमरनाथ जाने वाली वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए 15 अप्रैल से ऑनलाइन अग्रिम यात्री रजिस्ट्रेशन शुरू हो रहे हैं। इस व्यवस्था में शिव भक्त श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड की संबंधित वेबसाइट पर जाकर खुद को यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकृत करवा सकेंगे। यात्री को ऑनलाइन आवेदन के दौरान अपना ब्योरा, फोटोग्राफ और अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाणपत्र (सीएचसी) देना होगा।

Advertisement

कोरोना के खतरे के बीच नवरात्रि पर्व की शुरुआत, श्रद्धालुओं को सख्ती से पालन करनी होगी कोविड गाइडलाइन

अब तक देशभर में विभिन्न बैंक शाखाओं में करीब 20 हजार यात्री अग्रिम पंजीकरण करवा चुके हैं। बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नीतीश्वर कुमार ने बताया कि इस बार 56 दिन की यात्रा के लिए बैंक शाखाओं के साथ ऑनलाइन पंजीकरण सुविधा दी जाएगी। ऑनलाइन पंजीकरण के लिए बोर्ड की ओर से केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों में मान्यता प्राप्त डॉक्टर/चिकित्सा संस्थान की ओर से गत 15 मार्च के बाद से जारी सीएचसी लिए जाएंगे। ऑनलाइन पंजीकरण के लिए जाली सीएचसी की निगरानी की जाएगी। बोर्ड की वेबसाइट पर यात्रियों को ऑनलाइन पंजीकरण की पूरी जानकारी दी जाएगी।

राजधानी में ऑक्सीजन की कमी, 5 की मौत: कोविड अस्पतालों में मची भगदड़

यात्रियों को साथ लानी होगी फोटो आईडी

यात्रा के दौरान यात्रियों को अपने साथ फोटो आईडी और सीएचसी साथ में रखना होगा। यात्रियों को निर्धारित तिथि और रूट के मुताबिक ही यात्री परमिट जारी किया जाएगा। दोमेल और चंदनबाड़ी एंट्री गेट से यात्रियों को संबंधित यात्री परमिट के आधार पर ही आगे छोड़ा जाएगा। ऑनलाइन यात्री पंजीकरण में पहले आओ पहले पाओ की व्यवस्था रहेगी। यात्रा के लिए 13 वर्ष से कम, 75 वर्ष से अधिक और छह हफ्ते की गर्भवती महिला योग्य नहीं माने जाएंगे। हेलिकाप्टर से यात्रा करने वालों को अग्रिम पंजीकरण करवाने की जरूरत नहीं होगी। लेकिन उन्हें असली सीएचसी दिखाना होगा।

उत्तर प्रदेश: कमरे में फंदे से लटक रही थी बहू, ससुराल वाले बाहर से बना रहे थे वीडियो

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply