वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक और बड़ा दावा किया है. उन्होंने कहा कि जो आतंकी अबु बकर अल बगदादी की जगह ले सकता था उसे भी अमेरिका की सेना ने मार गिराया है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्वीट करते हुए ये जानकारी दी. बता दें कि बगदादी के बाद अब्दुल्ला कारदास को आईएस का नया आका चुना गया था. बगदादी के उत्तराधिकारी अबदुल्ला कारदास को भी अमेरिका की सेना ने ढेर कर दिया.

हाउसफुल 4 को निगेटिव रिव्यू मिलने के बाद भी हुई करोड़ों की कमाई…

गौरतलब है कि अमेरिकी सेना ने सीरिया में आईएसआईएस के सरगना अबू बक्र अल-बगदादी को निशाना बनाते हुए एक ऑपरेशन को अंजाम दिया था जिसमें बगदादी मारा गया. ट्रंप ने ट्वीट किया कि अभी पुष्टि की गई है कि अबू बक्र अल-बगदादी के नंबर एक रिप्लेसमेंट को अमेरिकी सैनिकों द्वारा समाप्त कर दिया गया है. ये बगदादी की जगह ले सकता था. अब वह भी मर चुका है.


इससे पहले 27 अक्टूबर को डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट करते हुए जानकारी दी थी कि इस्लामिक स्टेट का सरगना अबु बकर अल बगदादी मारा गया है. उन्होंने बताया कि अमेरिकी सेना से घिरने के बाद बगदादी ने खुद को आत्मघाती धमाके से उड़ा लिया. ट्रंप ने कहा था, ”(बगदादी) अब दोबारा किसी बेगुनाह पुरुष, महिला या बच्चे को नुकसान नहीं पहुंचा पाएगा. वो कुत्ते की तरह मरा, वो कायर की तरह मरा. दुनिया अब और भी सुरक्षित हो गई है.”बता दें कि साल 2006 में इस्लामिक स्टेट इन इराक (ISI) की स्थापना की थी. इस संगठन के माध्यम से उसने पूरी दुनिया में आतंक खेल खेलना शुरू किया. हालांकि बाद में संगठन के अन्य सदस्य से असहमति के बाद उसने 2013 में ‘इस्‍लामिक स्‍टेट इन इराक एंड अल-शाम’ (Isis) संगठन का नाम कर दिया. आईएसआईएस बनाने के बाद बगदादी के संगठन ने सीरिया और इराक के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया था जहां उसी का कानून चलता था. उसने कई देशों में आतंकी हमलों को अंजाम देने का काम किया.
https://youtu.be/Avq6CqRweSQ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here