5जी स्पेक्ट्रम के लिए नीलामी प्रक्रिया आज से शुरू.रिलायंस जियो और भारती एयरटेल समेत चार कंपनियां लगाएंगी बोली, इस दौरान 4.3 लाख करोड़ रुपए मूल्य के 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिए बोलियां लगाई जाएंगी।

5जी स्पेक्ट्रम के लिए नीलामी प्रक्रिया आज से शुरू.रिलायंस जियो और 5जी स्पेक्ट्रम के लिए नीलामी प्रक्रिया आज से शुरू. बतादें कि इसमें रिलायंस जियो और भारती एयरटेल समेत चार कंपनियां बोली लगाएंगी। इस दौरान 4.3 लाख करोड़ रुपए मूल्य के 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिए बोलियां लगाई जाएंगी। दूरसंचार विभाग के सूत्रों ने कहा कि स्पेक्ट्रम के लिए आने वाली बोलियों और बोलीकर्ताओं की रणनीति पर यह निर्भर करेगा कि नीलामी प्रक्रिया कितने दिन तक चलती है। उद्योग जगत को उम्मीद है कि नीलामी प्रक्रिया दो दिन तक चल सकती है और स्पेक्ट्रम की बिक्री आरक्षित मूल्य के आसपास ही होगी।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अक्षय कुमार कुमार को भेजा ‘सम्मान पत्र’

रिलायंस जियो ने लगाई बड़ी बाजी
बाजार विश्लेषकों का कहना है कि नीलामी के दौरान आक्रामक ढंग से बोलियां लगाए जाने की उम्मीद कम है. इसकी वजह यह है कि स्पेक्ट्रम पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है जबकि बोलियां लगाने वाली कंपनियां सिर्फ चार हैं. रिलायंस जियो ने नीलामी के लिए 14,000 करोड़ रुपये की राशि विभाग के पास जमा कराई है जबकि अडाणी एंटरप्राइजेज ने सिर्फ 100 करोड़ रुपये की राशि जमा की है.

महीने की शुरुआत में ही अदानी ग्रुप ने ऐलान किया था कि उनकी कंपनी 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में शामिल होगी. साथ में बताया था कि इस प्राइवेट नेटवर्क के जरिए वह अपने कारोबार को सपोर्ट देंगे और एयरपोर्ट, पावर सेक्टर और डाटा सेंटर्स में इसकी सर्विस ली जाएगी. भारती एयरटेल के सुनील मित्तल ने भी नीलामी के लिए 5500 करोड़ की राशि जमा कराई है और वोडाफोन-आइडिया की ओर से भी 2200 करोड़ की रकम विभाग में जमा कराई है.

लोकसभा में पास हुआ भारतीय अंटार्कटिक विधेयक

इस साल के आखिर तक मिल सकती है 5G सर्विस
सरकार के मेंडेट के हिसाब से जो भी कंपनी स्पेक्ट्रम खरीदती है उसको 6 महीने से 1 साल के अंदर सर्विस शुरू करनी ही होगी। कई टेलीकॉम ऑपरेटर अपनी तैयारी पूरी कर चुके हैं, ऐसे में वह स्पेक्ट्रम खरीदने के 3 से 6 महीने के अंदर सर्विस शुरू कर सकते है। ऐसे में इस साल के आखिर तक 5G सर्विस मिलने की पूरी संभावना है। 5G इंटरनेट सेवा के शुरू होने से भारत में काफी कुछ बदलने वाला है। इससे न सिर्फ लोगों का काम आसान होगा, बल्कि मनोरंजन और संचार के क्षेत्र में भी काफी कुछ बदल जाएगा। 5G के लिए काम कर रही कंपनी एरिक्सन का मानना है कि 5 साल में भारत में 50 करोड़ से ज्यादा 5G इंटरनेट यूजर की संख्या होने वाली है। जानिए 5G के शुरू होने से लोगों को क्या फायदे होने वाले हैं।

पहला फायदा तो ये होगा कि यूजर तेज स्पीड इंटरनेट इस्तेमाल कर सकेंगे।
वीडियो गेमिंग के क्षेत्र में 5G के आने से बड़ा बदलाव होगा।
यूट्यूब पर वीडियो बिना बफरिंग या बिना रुके चलेगा।
वॉट्सऐप कॉल में आवाज बिना रुके और साफ-साफ आएगी।
मूवी 20 से 25 सेकेंड में डाउनलोड हो जाएगी।
कृषि क्षेत्र में खेतों की देखरेख में ड्रोन यूज संभव होगा।
मेट्रो और बिना ड्राइवर चलने वाली गाड़ियों को ऑपरेट करना आसान होगा।
वर्चुअल रियलिटी और फैक्ट्री में रोबोट यूज करना ज्यादा आसान होगा।
यही नहीं 5G आने से इंटरनेट ऑफ थिंग्स के जरिए ज्यादा से ज्यादा कंप्यूटर सिस्टम को कनेक्ट करना आसान होगा।

हमसे व्हाट्सएप ग्रुप पर जुड़े

मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रोजगार की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here