चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनके बयान के लिए नोटिस भेजा है। योगी आदित्यनाथ ने एक जनसभा में ‘मोदी की सेना’ कहा था। योगी के इस बयान के बाद विपक्षी दलों ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई थी और इसकी चुनाव आयोग से शिकायत की थी। अब चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ को नोटिस जारी कर 5 अप्रैल तक जवाब मांगा है।

Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद में एक चुनावी सभा में BJP के लिए प्रचार करते हुए भारतीय सेना को ‘मोदी जी की सेना’ करार दिया था । योगी ने कहा, ‘‘कांग्रेस के लोग आतंकवादियों को बिरयानी खिलाते थे और मोदी जी की सेना आतंकवादियों को गोली और गोला देती है। यही अंतर है। कांग्रेस के लोग मसूद अजहर के नाम के आगे ‘जी’ लगाते हैं, ताकि आतंकवाद को बढ़ावा मिले।’’ सीएम योगी की इस टिप्पणी पर सोमवार को राजनीतिक विवाद पैदा हो गया। विपक्षी नेताओं ने योगी पर हमला बोलते हुए उन पर सेना का ‘‘अपमान करने’’ का आरोप लगाया था।

Election Commission issues notice to Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath over his ‘Modi ki sena’ remarks, made during a speech. The Commission has asked him to file a reply by April 5.

@vicharodaya

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply