दक्षिण भारतीय पारंपरिक लोकनाट्य विधाओ पर केंद्रित 3 दिवसीय यक्षकथी का समापन आज दिनांक 20 जून 2018 को समाप्त हुआ जिसके अंतिम दिन पर बलि-मोक्ष(यक्ष गान) का आयोजन किया गया जिसका निर्देशन केरेमने शिवानंदहेगड़े जी के द्वारा किया गया…

आयोजन के दौरान कुछ चित्र

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply