उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ से एक युवक द्वारा मैसेंजर पर मैसेज कर पत्नी को तीन तलाक देने का मामला सामने आया है. पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि तलाक के बाद ससुरालवालों ने इद्दत कराने के लिए महिला को घर में बंधक बना लिया. सूचना पर परिजनों के साथ पहुंची पुलिस ने महिला को मुक्त करवाया. परिजनों का आरोप है कि बाइक और दो लाख रुपये की मांग पूरी न होने पर उनकी बेटी को वाट्सएप पर मैसेज के जरिए तीन तलाक की सजा दी गई है.

Advertisement

मामला जनपद हापुड़ के सिंभावली थाना इलाके के वैट गांव का है, जहां 2 लाख रुपये और बाइक की डिमांड पूरी न करने पर ताज मोहम्मद ने अपनी पत्नी को मैसेंजर ऐप पर मैसेज कर तलाक दे डाला. ताज मोहममद की शादी 3 साल पहले दिल्ली की रहने वाली रूबिया (बदला हुआ नाम) से हुई थी. शादी के बाद से ही ससुराल पक्ष लगातार रूबीया से दहेज की मांग कर प्रताड़ित कर रहा था.

यहां तक कि लड़की पक्ष ने ससुरालवालों की मांग पर करीब 50 हजार रुपये दे दिए, लेकिन लड़के वालों का लालच बढ़ता ही गया. नतीजतन रूबिया को उसके पति ने मैसेज के जरिए तीन तलाक तक दे डाला. इतना ही नहीं, इसके बाद रूबिया को इद्दत के लिए घर में बंधक बना लिया. किसी तरह रूबिया ने जानकारी अपने परिजनों को दी.

परिजन ने मामले की शिकायत सिंभावली थाने में की. पुलिस ने परिजनों के साथ मौके पर पहुंचकर घर में बंधक बनाई गई रूबिया को मुक्त कराया और अपने साथ थाने ले गई.

Pm मोदी का पोस्टर देख भडके जावेद अख्तर तो मोदी ने दिया यह जबाव

पुलिस के मुताबिक, परिजनों की शिकायत के आधार पर आरोपियों के घर पहुंचकर महिला को मुक्त कराया गया. कानूनी सलाह लेने के बाद ही कोई कार्रवाई करने की बात कहकर परिजन तलाकशुदा महिला को अपने साथ दिल्ली के सीलमपुर घर ले गए. अब पीड़िता की तहरीर आने पर मामले में कार्रवाई की जाएगी.

@vicharodaya

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply