कोरोना वैक्सीन की उम्मीद बढ़ी

    Share this News

    कोरोना वैक्सीन की उम्मीद बढ़ी, अमेरिकी कंपनी ने किया ह्यूमन ट्रायल, मिले बेहतर नतीजेअगर तीसरा चरण सफल रहा तो कंपनी वैक्सीन बनाने का लाइसेंस हासिल करने के लिए अप्लाई कर सकेगी. बता दें कि मॉडर्ना पहली दवा कंपनी है जिसने अपनी आरएनए आधारित वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल किया है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी कह चुके हैं कि साल के अंत तक कोरोना की वैक्सीन आ सकती है.

    UGC ने जारी किए नंबर, पूछ सकते हैं एडमिशन से लेकर एग्जाम तक अपने सवाल

    चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस के प्रकोप से इन दिनों पूरी दुनिया जूझ रही है. ऐसे में कई देश इस महामारी के वैक्सीन की खोज में जुटे हुए हैं. दुनिया भर की तमाम लैबों में वैज्ञानिक दिन-रात एक कर वैक्सीन को जल्द से जल्द इजात करने की कोशिशों में लगे हुए हैं. इस बीच अमेरिका की दवा कंपनी मॉडर्ना ने कोरोना वैक्सीन बनाने की उम्मीदें बढ़ा दी हैं. https://www.instagram.com/p/CAVKhGQJWEv/?igshid=1rtinsw26r2yu

    कंपनी ने वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया में एक अहम चरण पार कर लिया है. बताया जा रहा है कि कंपनी ने वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू कर दिया है और ह्यूमन ट्रायल के नतीजे भी काफी बेहतर मिले हैं. कंपनी ने कहा है कि ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल के शुरुआती नतीजे सकारात्मक आने के बाद जुलाई में वैक्सीन के ट्रायल का तीसरा चरण शुरू हो जाएगा.

    https://youtu.be/AOy_hutqgcY